comScore

आंगन में सोयी थी वृद्ध महिला, उठा ले गया तेंदुआ, दूर नर्सरी में मिला शव

आंगन में सोयी थी वृद्ध महिला, उठा ले गया तेंदुआ, दूर नर्सरी में मिला शव

डिजिटल डेस्क, चंद्रपुर। जिले के जंगल वाले इलाके में वन्यजीवों के हमले और इससे हो रही जन हानि थमने का नाम नहीं ले रही है। तेंदुए द्वारा बालिका को घर से उठाकर ले जाने वाली घटना से लोग अभी उबरे भी नहीं कि एक तेंदुए ने महिला को अपना शिकार बना लिया।

जानकारी के अनुसार सिंदेवाही तहसील के गडबोरी गांव के समीप एक वृद्ध महिला तेंदुआ को उठाकर ले गया।  बताया जाता है कि महिला अपने घर के आंगन में खाट पर सोयी हुई थी तभी तेंदुए ने जंगल में ले जाकर उसका शिकार कर डाला। महिला नाम गयाबाई हटकर(65) है। परिवार के लोग सुबह उठे तो गयाबाई दिखाई नहीं दी। आस-पास खून के दाग दिखाई दिए तो परिवारवाले सहम गए और आसपास खोजबीन की तो दूर एक नर्सरी के पास  महिला की शव दिखाई दिया। 

गौरतलब है कि विगत दिनों स्वराज नामक नौ माह के बालक को तेंदुआ घर से उठाकर ले गया था। महिला का शिकार भी उसी तेंदुए द्वारा किए जाने का अंदेशा है। जानकारी मिलते ही वन विभाग के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। घटना से ग्रामीणों में दहशत और वनविभाग के प्रति रोष व्याप्त है। लोगों ने शीघ्र आदमखोर तेंदुए का बंदोबस्त किए जाने की मांग की है। ग्रामीणों ने जब तक मांग पूरी नहीं होती तब तक शव नहीं उठाने की चेतावनी दी है। वनविभाग और पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

उल्लेखनीय है कि चंद्रपुर से सटे ताड़ोबा जंगल में विविध वन्यप्राणी हैं। यहां बाघ और तेंदुए भी सर्वाधिक हैं। गर्मी के दिनों में भोजन और पानी की तलाश में वन्यजीव गांव व बस्तियों की ओर रूख करते हैं। यह तेंदुआ भी भोजन और पानी की तलाश में गांव की ओर आया और महिला को अपना शिकार बना लिया। इसी तरह कुछ माह पूर्व मार्निंग वॉक के लिए निकली एक बालिका पर बाघ ने हमला कर दिया था। उस समय लोगों के चीखने-चिल्लाने से बाघ बालिका को छोड़कर भाग गया था लेकिन एक सप्ताह में दो लोगों की मौत हो जाने से गांव के लोग दहशत में हैं।

कमेंट करें
RWpzT