comScore

पश्चिम बंगाल की खाड़ी में बन रहा दबाव एक गंभीर दबाव में बदल रहा है।

October 13th, 2020 17:12 IST
पश्चिम बंगाल की खाड़ी में बन रहा दबाव एक गंभीर दबाव में बदल रहा है।

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के चक्रवात चेतावनी विभाग के अनुसार: पश्चिम बंगाल की खाड़ी (बीओबी) में कल जो दबाव का क्षेत्र बना था वो अब पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ गया है। यह आज यानि 12 अक्टूबर, 2020 को भारतीय समयानुसार 1130 बजे 15.9 ° अक्षांत और देशांतर 84.8 ° ई, लगभग 250 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में विशाखापट्टनम (आंध्र प्रदेश), काकीनाडा (आंध्र प्रदेश) से 290 किमी दक्षिण-पूर्व में और 330 किमी दक्षिण-पूर्व में केंद्रित है। इसके 13 अक्टूबर 2020 के तड़के पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और उत्तर आंध्र प्रदेश तट के नरसापुर और विशाखापट्टनम के बीच पार करने की बहुत संभावना है। गहरे दबाव की वजह से अधिकतम 55-65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार लेकर 57 किलोमीटर प्रतिघंटे तक की रफ्तार से हवा चल सकती है। निम्न तालिका में पूर्वानुमान की संभावना और तीव्रता दी गई है: तारीख/समय(भारतीय समयानुसार) स्थिति (Lat. 0N/ long. 0E) अधिकतम सतही हवा की गति (प्रतिकिलोमीटर)) चक्रवाती गड़बड़ी की श्रेणी 12.10.20/1130 15.9/84.8 50-60 से लेकर 70 गहरा दबाव 12.10.20/2330 16.7/83.1 55-65 से लेकर 75 गहरा दबाव 13.10.20/1130 17.1/81.7 45-55 से लेकर 65 दबाब 13.10.20/2330 17.5/80.3 25-35 से लेकर 45 कम दबाव i) बारिश की चेतावनी 12 अक्टूबर 2020: पूर्व और पश्चिम गोदावरी, विशाखापट्टनम, विजयनगरम और उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश और यनम के श्रीकाकुलम जिले जिले के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और कुछ स्थानों पर भारी से लेकर अत्यधिक भारी बारिश (> 20 सेमी प्रति दिन) हो सकती है। गंजम, गजपति, कोरापुट, रायगडा, नवरंगपुर, मलकानगिरी, खुर्दा और दक्षिण ओडिशा के पुरी जिले, दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश का कृष्णा जिला, रायलसीमा का कुरनूल जिला, तेलंगाना, दक्षिण कोंकण और गोवा, दक्षिण मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, कर्नाटक, और उत्तर केरल के अधिकांश जगहों पर भारी से अत्यधिक भारी बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा दक्षिण छत्तीसगढ़ में अलग- अलग स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। 13 अक्टूबर 2020: तेलंगाना के अधिकतम जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है और कुछ जगहों पर भारी से बहुत भारी बारिश के साथ अधिकांश स्थानों पर अत्यधिक भारी बारिश (> 20 सेमी प्रति दिन) होने की संभावना है। कर्नाटक, रायलसीमा, दक्षिण कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र और मराठावाड़ा में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है और उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश, दक्षिण ओडिशा, और विदर्भ में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। (ii) समुद्री तूफान संबंधी चेतावनी 12 अक्टूबर 2020: पश्चिम मध्य और आस-पास के दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी में 45-55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती हैं। दक्षिण-ओडिशा-आंध्र प्रदेश-तमिलनाडु और पुदुचेरी तटों के साथ-साथ पश्चिम बंगाल की खाड़ी और उत्तर ओडिशा तटों पर 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 60 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। 13 अक्टूबर 2020: 12 अक्टूबर 2020 की शाम से लेकर 13 अक्टूबर की दोपहर तक पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी और आंध्र प्रदेश के तट पर हवा की गति 55-65 किमी प्रति घंटा से बढ़कर 75 किमी प्रति घंटे तक पहुंच सकती है और बंगाल के उत्तर-पश्चिमी खाड़ी, बंगाल के दक्षिण-पश्चिम खाड़ी से सटे इलाकों और ओडिशा के साथ-साथ तमिलनाडु और पुदुचेरी के तटों पर हवा की गति 50-60 किमी प्रति घंटे से लेकर 70 किलोमीटर प्रतिघंटे तक पहुंच सकती है और मन्नार की खाड़ी में45-55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली तेज़ हवाओं की रफ्तार 65 किलोमीटर तक पहुंच सकती है। iii) समुद्र की स्थिति 11 और 12 अक्टूबर 2020 को पश्चिमोत्तर और बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी से सटे इलाकों, दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी और ओडिशा के साथ-साथ आंध्र प्रदेश-तमिलनाडु और पुडुचेरी के समुद्र तटों तथा मन्नार की खाड़ी में 12 और 13 अक्टूबर 2020 को समुद्र में तेज लहरें उठ स%

कमेंट करें
84JCk