comScore

 ससुराल जा रहे युवक ने रास्ते में लगाई फांसी-हर्रई के ग्राम हड़ाई के समीप की घटना

 ससुराल जा रहे युवक ने रास्ते में लगाई फांसी-हर्रई के ग्राम हड़ाई के समीप की घटना

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। भाईदूज पर पत्नी को मायके छोडऩे जा रहे पति ने रास्ते में फांसी लगाकर जान दे दी। घटना सोमवार शाम हर्रई के ग्राम हड़ाई के समीप जंगल की है। शौच जाने की बात कहकर जंगल के भीतर गया पति काफी देर तक नहीं लौटा तब पत्नी ने जाकर देखा तो पति फंदे पर लटका हुआ था। पति की मौत से बदहवास पत्नी ने राहगीरों की मदद से पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची हर्रई पुलिस टीम ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है।
एएसआई केएल मेहरा ने बताया कि छाताखुर्द निवासी 37 वर्षीय शंकरलाल पिता रामजी उईके सोमवार को भाईदूज के अवसर पर पत्नी सेजवति को उसके मायके सेजवाड़ा छोडऩे जा रहा था। दंपती पैदल ही निकले थे। हड़ाई और घोंदी के बीच शंकर ने सेजवति से कहा कि तू आगे चल मैं शौच कर आ रहा हूं। काफी देर तक जब शंकरलाल नहीं लौटा तो पत्नी ने जंगल के भीतर जाकर देखा। वहां सागौन के पेड़ पर गमछे से बने फंदे पर शंकरलाल का शव लटका मिला। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है।
पत्नी से विवाद के बाद युवक ने लगाई फांसी-
लावाघोघरी के ग्राम गढ़ागोंदी में मंगलवार सुबह एक युवक ने पत्नी से विवाद के बाद फांसी लगाकर जान दे दी। टीआई राकेश भारती ने बताया कि गढ़ागोंदी निवासी 40 वर्षीय शिवलाल पिता नकल ङ्क्षसह बनके ने शराब के नशे में मंगलवार सुबह पत्नी से मारपीट की। पत्नी और उसका बेटा खेत चले गए। लगभग एक घंटे बाद बेटा वापस घर लौटा तो शिवलाल फंदे पर लटका हुआ था। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है।

कमेंट करें
BVmW1