दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना : मुंबई, नागपुर, पुणे, ठाणे, नई मुंबई में थिएटर-जिम बंद - पुणे और पिंपरी-चिंचवड के स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी 

March 13th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 18 हो गई है। नागपुर में भी मरीजों की संख्या 4 तक पहुंच गई है। जबकि पुणे में सबसे ज्यादा 10 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। मुंबई में तीन और ठाणे में एक व्यक्ति को कोरोना पीड़ित पाया गया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी। ठाकरे ने बताया कि पुणे के नायडू अस्पताल में 10, मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में 4 और नागपुर मेडिकल कॉलेज में 4 मरीजों का इलाज चल रहा है। इनमें से 15 लोग दुबई, फ्रांस और अमेरिका की यात्रा कर महाराष्ट्र आए हैं। इस बीच राज्य सरकार ने नागपुर, पुणे, पिंपरी चिंचवड, मुंबई, नई मुंबई और ठाणे शहरों में सिनेमाघर, नाट्यगृह, व्यायाम शाला और स्विमिंग पूल 30 मार्च तक बंद करने का फैसला लिया है। ठाकरे ने कहा कि चीन के वुहान शहर में सब कुछ बंद कर दिया इसके चलते बीमारी में कमी आ रही है। इसके अलावा पुणे और पिंपरी चिंचवड में 10वीं 12वीं की परीक्षा के अलावा बाकी स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। स्कूलों की परीक्षा को लेकर जल्द ही फैसला किया जाएगा। 

जरुरी होने पर ही करें यात्रा

मुख्यमंत्री ने कहा कि अत्यावश्यक सेवा होने के चलते बस और रेलवे बंद करना ठीक नहीं है लेकिन लोगों से अपील की जाती है कि वे जरूरी होने पर ही यात्रा करें। इसके अलावा लोग मॉल, होटल, रेस्टारेंट जाने से भी बचें। इवेंट मैनेजमेंट करने वालों से भी कहा गया है कि धार्मिक, सांस्कृतिक, व्यावसायिक, खेल, राजनीतिक कार्यक्रमों को इजाजत नहीं दी जाएगी। अगर पहले इजाजत मिली है तो रद्द कर दी जाएगी। निजी क्षेत्र की कंपनियों को निर्देश दिए गए हैं कि अगर संभव हो तो कर्मचारियों के घर से काम करने की सुविधा दें। ठाकरे ने कहा कि फिलहाल एहतियात बरतने की जरूरत है इसलिए पूरा शहर बंद करने की जरूरत नहीं है।   

राज्य में लगा एपेडिमिक डिजज एक्ट

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य में एपेडिमिक डिजीज एक्ट लागू करते हुए लोगों से कहा गया है कि वे भीड़भाड़ से बचे, बार बार साबुन से हाथ धोएं, लोगों से हाथ मिलाने की बजाय नमस्कार करें, खांसते-छींकते समय मुंह पर रुमाल या हाथ रखें, लोगों से तीन फुट दूर रहें। 

केंद्र से मांगी इजाजत

टेस्ट के लिए केंद्र सरकार के जरिए ही किट मिलती है। केंद्र से कहा गया है कि ज्यादा टेस्ट के लिए जरुरी सामान उपलब्ध कराए। सामानों की खरीदारी केंद्र के जरिए ही की जा सकती है।   

खबरें और भी हैं...