दैनिक भास्कर हिंदी: चोर गैंग से दहशत में शहरवासी, राहगीरों को बनाते हैं अपना शिकार

October 28th, 2017

डिजिटल डेस्क, अमरावती। अमरावती-पिछले कुछ दिनों से अमरावती शहर के कुछ इलाकों में रात के दौरान अजीबोगरीब घटनाएं घटित हो रहीं हैं। कुछ लोग इसका शिकार भी बनें हैं, लेकिन पुलिस ने प्रशासन इसे मानने के लिए तैयार नहीं कि ऐसा कोई गिरोह शहर में सक्रिय हैं। जो समूह में आकर चोरी करता है और कोई दिखाई देने पर उस पर पथराव करता है। लेकिन चाहे कुछ भी हो अमरावती शहरवासी इन दिनों इस अज्ञात गिरोह के जबर्दस्त दहशत में हैं।

 

यहां तक के रात-बेरात कामकाज खत्म कर घर लौटने वाले मजदूर भी इस दहशत का कभी शिकार बन सकते हैं। इसकी संभावना नकारी नहीं जा सकती। ऐसा ही एक वाकयात कल रात 11 बजे के दौरान अकोली रिंगरोड पर घटित हुआ। दर्जनों की संख्या में युवक इन समूह में घुमनेवाले कथित चोरों को पकडने के लिए दौड पडें, लेकिन वे भाग गये। यहां तक की खोलापुरी थाना पुलिस का दल भी काफी देर तक इन सामूहिक चोरों के तलाश में जूट गया था।

 

जानकारी के अनुसार अकोली से चांदूरी मार्ग पर एक खेती की राजेंद्र डरांगे नामक व्यक्ति चौकीदारी करते हैं। उनका घर समीप के म्हाडा कालोनी में रात १० बजे वे खाना खाने के लिए घर आये थे और ११ से 11।30 बजे के करीब कालोनी से निकलनेवाले कच्चे रास्ते से अकोली रिंगरोड की ओर बढते समय उन्हें अंधेरे में लगभग आठ लोग अंधेरे में स्वयं का अस्तित्व छिपते-छिपाते आगे बढते दिखाई दिये। हमेशा की तरह अंधेरे से रास्ता काटने राजेंद्र डरांगे के पास टॉर्च था।

 

उन्होंने टॉर्च लगाकर देखा तो आठ लोग उन्हें कुछ दूरी पर दिखाई दिये। वे टॉर्च के उजाले से स्वयं को छिपा रहें थे। उसी समय राजेंद्र डरांगे ने कौन हैं करके जोर की आवाज लगायी तब कुछ लोग हिंदी भाषा में ‘चल भाग साले’ कहकर उनकी दिशा में पथराव करने लगे। वहां से कुछ ही दूरी पर कालोनी रहने से उन्होंने परिसरवासियों को मदत के लिए आवाज लगायी। यह आवाज म्हाडा कालोनी में पहुंची और युवाओं की झूंड स्वयं की रक्षा के लिए हाथ में लगे वह हथियार लेकर रिंगरोड की ओर दौड पडी। लोगों के आने की आहट लगते ही आठों लोग अंंधेरे में भागने में सफल हो गये। इससे पहले खोलापुरी गेट पुलिस को भी खबर दी गई।

 

पुलिस का दल इस समूह की तलाश में अकोली रिंगरोड पर दाखल हो गया। कुछ लोग जब इन आठ अज्ञातों की तलाश में भातकुली मार्ग पर स्थित राधा सिटी में पहुंचे तो वहां रहनेवाले कुछ लोगों ने बताया कि चार बाइक पर कुछ लोग आये। उन्होंने अपने वाहन मैदान में खडे कर वे रिंग रोड से चांदूरी रोड की ओर जाते दिखाई दिये। लेकिन कुछ ही देर में वापिस लौटे और गाडियां लेकर चले गये। पुलिस का कहना हैं कि ऐसी कोई घटनाएं घटित नहीं हो रहीं और ना ही ऐसा कोई गिरोह शहर में सक्रिय हैं, तो फिर कल रात अकोली रिंग रोड पर जो घटित हुआ वह क्या था?