comScore

चंद्रपुर के जंगलों में आतंक मचा रखा है बाघ ने, ड्रोन कैमरे से रखी जा रही नजर

September 08th, 2018 19:47 IST
चंद्रपुर के जंगलों में आतंक मचा रखा है बाघ ने, ड्रोन कैमरे से रखी जा रही नजर

डिजिटल डेस्क, भद्रावती(चंद्रपुर)। विदर्भ के जंगलों में बाघों और तेंदुआ का बढ़ना जहां एक ओर पर्यटकों और वनविभाग के लिए खुशी ला रहा है। वहीं कुछ आतंकी बाघ और तेंदुओं के चलते फारेस्ट रेंज के आसपास रहने वाले लोगों की रातों की नींद उड़ी हुई है। यहां आतंक मचा रहे तेंदुए पर अब ड्रोन कैमरे की मदद ली जा रही है।

उल्लेखनीय है कि दो दिन पूर्व रात 9 बजे के दरम्यान बाघ दिखाई देने से दहशत फैली हुई है। भांदक चेकपोस्ट समीप स्थित स्नेहल व गौतम नगर की झाड़ियों में आए बाघ को वनविभाग ने जंगल के मार्ग से खदेड़ने के बावजूद भी रात 9 बजे उसी परिसर में फिर बाघ नागरिकों को दिखाई दिया। इससे नागरिकों में दहशत का माहौल है। वनविभाग अब बाघ पर ड्रोन कैमरे से नजर रख रहा है। विगत दो दिनों से शिकार की तलाश में आए नर प्रजाति के 2 वर्षीय बाघ ने बीएसएनएल के संरक्षण दीवार के मार्ग से झाड़ियों में डेरा डाल रखा है। इससे नागरिक डरे-सहमे हैं।

वनपरिक्षेत्र अधिकारी स्वाति महेशकर के मार्गदर्शन में टाइगर रैपिड एक्शन, एसटीपीएफ पथक, वनविभाग के अधिकारी, इको-प्रो के सदस्यों ने पटाखे फोड़कर जेसीबी, बैंड आदि के माध्यम से बाघ को जंगल की दिशा में खदेड़ दिया। इसके बाद बाघ रात 9 बजे उसी परिसर में दिखाई दिया, जहां उसने सुअर का शिकार किया था। दूसरे दिन वनविभाग ने पुन: बाघ को जंगल की दिशा में खदेड़ दिया। दिनभर बारिश होने के चलते वनविभाग के अधिकारी व कर्मचारियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। इसके लिए वनविभाग व पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त था। इससे नागरिकों ने कुछ समय राहत की सांस ली। झाड़ियों के पीछे बाघ डेरा न डाले, इस दृष्टि से जेसीबी के माध्यम से झाड़ियां हटाई गई है। 

वनविभाग के प्रयास जारी
गौतम नगर परिसर में झुड़पी जंगल बढ़ने से शोध मुहिम में दिक्कतें उठानी पड़ी। इस कारण वनविभाग ने इस बाघ की हलचल कैद करने के लिए ड्रोन कैमरे का उपयोग शुरू किया है। जहां बाघ पर कड़ी नजर रखी जा रही है। 
स्वाति महेशकर, वनपरिक्षेत्र अधिकारी।

कमेंट करें
B5Alh