दैनिक भास्कर हिंदी: 2024 के लिए तैयारी दीदी ! न सांसद, न विधायक दिल्ली दौरे से पहले TMC संसदीय बोर्ड की अध्यक्ष बनीं ममता बनर्जी, संसद में करेंगी मोर्चाबंदी

July 24th, 2021

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को तृणमूल कांग्रेस ने संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष चुन लिया है। तृणमूल कांग्रेस चाहती है कि 7 बार सांसद रही चुकी ममता बनर्जी देश के प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठें। टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि दीदी संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष पद के लिए उपयुक्त हैं और उनकी लीडरशिप में पार्टी मजबूत होगी। वहीं, ममता बनर्जी भी पश्चिम बंगाल से निकलकर दिल्ली का रुख कर रही हैं। ममता ने कहा है कि जब तक भाजपा पूरे देश से साफ नहीं हो जाती है, तब तक सभी राज्यों में खेला होगा।

बता दें कि ममता बनर्जी 25 जुलाई से 3 दिन के दिल्ली प्रवास पर रहेंगी। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगी। उन्हें पीएम मोदी से मिलने का समय मिल गया है। वहीं, उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने का समय भी मांगा है। ममता दिल्ली प्रवास के दौरान केन्द्र सरकार की नीतियों के खिलाफ सभी विपक्षी दलों को एक मंच पर एकजुट करने की कोशिश करेंगी। बता दें कि मार्च-अप्रैल में हुए बंगाल चुनाव के बाद ममता और मोदी का पहली बार आमना-सामना होगा। दीदी की मोदी से मुलाकात ऐसे वक्त पर होने जा रही है। जब दीदी पेगासस और मीडिया हाउस पर रेड जैसे मुद्दों का खुलकर विरोध कर रही हैं।

ममता बनर्जी को क्यों चुना गया संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष 

  • बंगाल में मोदी और शाह की जोड़ी को पटखनी देने के बाद ममता का कद बढ़ गया है
  • ममता और उनकी पार्टी TMC चाहती है कि दीदी देश के प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठें
  • टीएमसी संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष बनने के बाद वे सीधे तौर पर अपनी पार्टी का चेहरा बन गई हैं
  • पीएम मोदी जब संसदीय बोर्ड की मीटिंग बुलाएंगे तो टीएमसी की ओर सीधे ममता बनर्जी जाएंगी 
  •  ममता की बेबाक और तेजतर्रार छवि भी उन्हें मोदी के सामने विपक्ष के बड़े नेता के तौर पर पेश करती है
  • कोरोना मैनेजमेंट, पेगासस जासूसी मामला और मीडिया हाउसेज पर रेड जैसे मुद्दे पर मोदी सरकार का जमकर विरोध किया

 

खबरें और भी हैं...