दैनिक भास्कर हिंदी: गड़चिरोली में जिला परिषद कर्मियों के आज से होंगे ट्रांसफर, 28 मई तक प्रोसेस

May 24th, 2019

डिजिटल डेस्क, गड़चिरोली।  गड़चिरोली जिला परिषद अंतर्गत  वर्ग 3 और वर्ग 4 के कर्मचारियों के तबादलों की प्रक्रिया 24 मई से शुरू हो गयी है। इसमें विभिन्न विभागों के कर्मचारियों के प्रशासकीय तबादले किए जा रहे हैं। इस तबादले की प्रक्रिया में नक्सलग्रस्त क्षेत्र के कर्मचारियों को न्याय मिलेगा क्या? ऐसा सवाल उपस्थित किया जा रहा है। 

यहां बता दें कि जिला परिषद अंतर्गत कार्यरत अनेक कर्मचारी काफी वर्षों से दुर्गम और अतिदुर्गम क्षेत्र में सेवा दे रहे हैं। ऐसे में कर्मचारियों को शहरी और जिला मुख्यालय में तबादला करना आवश्यक है। इस ओर गंभीरता से ध्यान देकर जिप के तबादले की प्रक्रिया के माध्यम से न्याय मिलने की उम्मीदवार दुर्गम क्षेत्र के कर्मचारियों द्वारा लगाई जा रही है। इस संदर्भ में मांग भी हो रही है। बता दें कि जिलास्तरीय तबादले प्रक्रिया   24 से 28 मई तक है। इस अवधि में महिला व बालकल्याण विभाग, ग्रामीण जलापूर्ति विभाग, स्वास्थ्य विभाग, निर्माण विभाग, सामान्य प्रशासन, वित्त, सिंचाई, शिक्षा और पंचायत विभाग प्रमुखता से शामिल हैं।

जिला परिषद के सभागृह में समुपदेशन से इन सभी विभागों के कर्मचारियों के तबादले पारदर्शिता से किए जाएंगे।  इस तबादले प्रक्रिया के माध्यम से पिछले अनेक वर्षो से दुर्गम और अतिदुर्गम क्षेत्र के कार्यरत कर्मचारियों को न्याय दिलाने के लिये जिप के मुख्य कार्यपालन अधिकारी पारदर्शिता से तबादले  मांग दुर्गम क्षेत्र के कर्मचारियों द्वारा की जा रही है। बता दे कि, इस तबादले प्रक्रिया के लिये पात्र कर्मचारियों की ऑनलाईन  पोर्टल  पर आवेदन व अन्य जानकारी मांगी गई है। 

आंगनवाड़ी सेविकाओं को  दिया प्रशिक्षण 
आंगनवाड़ी का कार्य स्पीड से व पेपरलेस करने के लिए राज्य सरकार ने केंद्र सरकार के 'सही पोषण, देश रोशनÓ  उपक्रम के तहत आईसीडीएस सीएएस मोबाइल एप के माध्यम से संबंधित आंगनवाड़ी सेविका पंजीयन रख सकेगी। जिसके तहत आंगनवाड़ी सेविकाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिसके तहत स्थानीय शहीद बाबूराव शेडमाके माध्यमिक तथा उच्च माध्यमिक विद्यालय में 17 से 21 मई तक प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया था। इस एप का प्रशिक्षण बालविकास अधिकारी विनोद हाटकर ने दिया। आगामी माह से अंगनवाडियों का कामकाज ऑनलाइन चलनेवाला है। जिसमें टीकाकरण, गृहभेंट, बालकों के दैनिक पंजीयन, स्तनदा माता, गर्भवती माता व बच्चों का पंजीयन आदि का समावेश रहेगा। 
 

खबरें और भी हैं...