दैनिक भास्कर हिंदी: तेज हवा से घरों की छतें उड़ीं और गिरे बिजली के खंभे, एक ही दिन में दो मौसम

April 7th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। रविवार आसमान राफ रहा और तेज धूप रही, लेकिन शनिवार तड़के काटोल तहसील के कोंढाली समीपस्थ धुरखेड़ा, वसंत नगर व पुसागोंदी गांव में करीब 5 बजे के दौरान अचानक तेज हवा के साथ उठे बवंडर से लगभग 15 घर क्षतिग्रस्त हो गए। हालांकि कोई जनहानि नहीं हुई। ग्रामीणों ने बताया कि सुबह करीब 5 बजे के दौरान अचानक तेज हवा चलने लगी और देखते ही देखते घरों की छतें उड़ने लगीं। करीब 20 पोल जमींदोज हो गए। हवा का रूख इतना तेज था कि गिरीश लद्धड़ के खेत में बने तबेले की छत पर रखा लोहे का पाइप बबनराव पेंदाम के घर की मुख्य दीवार के आर-पार जा घुसा, शंकरराव कोहले के घर पर लकड़ी का बड़ा खंभा जा गिरा। दोनों ही घटना में परिजन बाल-बाल बचे, पर तबाही देखकर लोग दंग रह गए। घटना की जानकारी सरपंच विट्ठलराव उके, उपसरपंच  सुदर्शन झोड़े ने उपविभागीय राजस्व अधिकारी  श्रीकांत उंबरकर, तहसीलदार अजय चरडे, नायब तहसीलदार  निलेश कदम को दी। राजस्व अधिकारियों ने घटनास्थल का पंचनामा करने ग्राम विकास अधिकारी राकेश  पिंपलकर, सहयोगी राजेंद्र सरोदे तथा ग्राम सचिव जीएस  बननगरे को भेजा। सभी ने मौके पर पहुंचकर जायजा लिया।

पेयजलापूर्ति सेवा ठप

बिजली के खंभे गिरने से गांव की बिजली आपूर्ति खंडित हो जाने से पेयजलापूर्ति सेवा भी ठप हो गई। कोंढाली  बिजली उपविभागीय अधिकारी अशोक गाणार को सूचना मिलने पर बिजलीकर्मी श्रीराम टापरे व अन्य सहयोगियों के साथ धुरखेड़ा पहुंचकर बिजली वितरण के नुकसान का जायजा लिया।  घटना में बबनराव पेंदाम, शंकरराव कोहले, दीपक कोहले, सुमनबाई शेलोटे, दिलीप बोडे, पार्वतीबाई पेंदाम, शिवशंकर थेटमाले, दीपक भोंगले, शांताराम ताजने, नारायण येसनसुरे, जयंत डोई, गिरीश लद्धड़ आदि के घरों की छत, छप्पर, कवेलू, टीन के शेड तथा बिजली उपकरणों का भारी नुकसान हुआ। कुल 56 हजार रुपए की क्षति का अनुमान राजस्व विभाग ने व्यक्त किया है। वहीं, बिजली वितरण कंपनी का भी अंदाजन  तीन लाख से अधिक की क्षति होने की जानकारी बिजली वितरण कंपनी के अधिकारी अशोक गाणार ने दी है। 

नुकसान का अंदेशा कुछ इस प्रकार है

पुसागोंदी के उपसरपंच हरिष राठोड़ की जानकारी के अनुसार,  संतरा उत्पादक जगन मानसिंह राठोड़ को 2 लाख, हरपाल मानसिंह राठोड़ को 3 लाख, सुरेश दयालसिंह  जाधव को 2 लाख, युवराज हटेसिंह राठोड़ को 2 लाख के नुकसान का अंदेशा है। कुछ घरों को भी नुकसान होने की जानकारी ग्राम अधिकारी ज्ञानेश्वरी दहीफले  ने दी है। घटना का पता चलते ही विविध राजनीतिक दलों के लोग भी धुरखेड़ा, पुसागोंदी व वसंत नगर पहुंचे थे। 

सुबह बूंदाबांदी, दोपहर में तेज धूप, शाम में बादल

सूर्य के अभी के तेवर से शहरवासी हैरान-परेशान हैं। शनिवार को अधिकतम तापमान 43 डिग्री व न्यूनतम तापमान 23.6 डिग्री दर्ज किया गया। फिलहाल धूप से राहत मिलने की संभावना नहीं है। हालांकि इसी बीच सुबह सोनेगांव परिसर में हल्की बूंदाबांदी हुई। वैसे पूरे शहर में दोपहर को तेज धूप पड़ी आैर शाम को हल्के बादल छाए रहे।  मौसम विभाग के अनुसार, लोकल डेवलपमेंट के कारण सुबह बूंदाबांदी और दोपहर में तेज धूप तथा शाम को बादल छाने जैसी स्थिति बन रही है।  अगले कुछ दिनों तक धूप इसी तरह बनी रहेगी। तेज धूप के कारण दोपहर में चुनाव प्रचार भी कम ही हो रहा है। लोग जरूरी होने पर ही घरों से बाहर निकल रहे हैं। तेज धूप के चलते ज्यादा से ज्यादा पानी पीने को कहा जा रहा है।