comScore

जब पूरा होना था काम, तब शुरू हुआ , PWD विभाग की सामने आई लापरवाही

जब पूरा होना था काम, तब शुरू हुआ , PWD विभाग की सामने आई लापरवाही

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शहर में जगह-जगह सीमेंट सड़क बनाने का काम चल रहा है। इसी बैच में मेडिकल चौक से जाटतरोड़ी होते हुए सरदार पटेल चौक तक सीमेंट सड़क बनानी है, लेकिन मजे की बात यह है कि सीमेंट सड़क बनाने के लिए टेंडर में दी गई समयावधि खत्म होने वाली है तब जाकर प्रशासन की नींद खुली। हाल ही में सड़क बनाने का काम आरंभ हुआ है, जबकि अब तक काम पूरा होने की स्थिति में होना चाहिए था। इसी लेटलतीफी की वजह से शहरवासियों को यातायात में परेशानी उठानी पड़ती है और जिम्मेदारों पर कोई कार्रवाई नहीं होती है।

मेडिकल चौक से जाटतरोड़ी और सरदार पटेल चौक तक सीमेंट सड़क बनाने का काम नवंबर-दिसंबर में पूरा करना था। लेकिन वर्क ऑर्डर निकलने के 6 माह बीतने के बाद भी सड़क का काम आरंभ नहीं हुआ। करीब एक करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली इस सड़क पर मनपा के लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों का ध्यान ही नहीं था। यही वजह है कि टेंडर में दिया गया समय बीतने की कगार पर आने के बाद इस सड़क को बनाने का काम आरंभ हुआ है।

दुकानदारों ने जताई आपत्ति
रामबाग कॉलोनी के सामने जैसे ही सीमेंट सड़क बनाने के लिए रास्ता ब्लॉक किया, वैसे ही दुकानदारों ने आपत्ति दर्ज करवाई। मामला स्थानीय विधायक के पास गया और उनकी सिफारिश के बाद काम बंद कर दिया गया। लेकिन रास्ता बंद करने के साथ ही डिवाइडर तोड़ दिया गया, जिसका मलबा बीच सड़क पर पड़ा था। 

हर बार कोई नया बहाना
सीमेंट सड़क के काम में लेटलतीफी हो रही है। इससे हर दिन आम नागरिकों को परेशान होने पड़ रहा है। इस पर हर बार कोई नया बहाना बनाया जाता है कि सड़क बंद करने की अनुमति, एक साथ अन्य सड़कों का काम चलने के कारण अधिकारी बच जाते हैं और ठेकेदारों पर भी कोई कार्रवाई नहीं की जाती है।
 

कमेंट करें
WUzHY