एशेज दूसरा टेस्ट : लाबुस्चागने बोले, पहले दिन के आखिरी सत्र ने मेरे धर्य की परीक्षा ली

December 17th, 2021

हाईलाइट

  • 27 वर्षीय सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने धीमी शुरुआत की

डिजिटल डेस्क, एडिलेड। ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज मार्नस लाबुस्चागने ने कहा कि दूसरे एशेज टेस्ट के पहले दिन का खेल वास्तव में बल्लेबाजों के लिए आसान नहीं था। उन्होंने कहा, अंतिम सत्र ने उनके धैर्य की बहुत अच्छी परीक्षा ली। लाबुस्चागने ने 275 गेंदों में 95 रन बनाकर नाबाद हैं। इस दौरान उन्होंने मैदान पर डटे रहने के लिए कड़ी मेहनत की और इस तरह दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया एडिलेड ओवल में 221/2 पर पहुंच गया।

लेबुस्चागने ने कहा, आखिरी सत्र में मैंने और स्टीव स्मिथ ने संभलकर खेला। मुझे लगता है कि खेल के अंतिम सत्र ने वास्तव में हमारी परीक्षा ली। एडिलेड में पहले दिन लाबुस्चागने को इंग्लैंड ने दो जीवनदान दिए। जब वह 21 और 95 रन पर थे।

27 वर्षीय सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने धीमी शुरुआत की, लेकिन वह लगातार मैदान पर टिक कर रन बना रहे थे। इस दौरान, वह 95 रन पर आउट हो गए और अपने शतक से चूक गए। वार्नर और लाबुस्चागने ने 172 रनों की साझेदारी की थी, जो ऑस्ट्रेलिया को पहले दिन मजबूत स्थिति में पहुंच दिया।

क्रीज पर नाबाद रहने के दौरान लाबुस्चागने को स्टंप माइक पर वेल प्लेड मार्नस, होशियार और नो रन जैसे शब्द बोलते हुए सुना गया। इसके बारे में बात करते हुए बल्लेबाज ने बताया, दो तेज गेंदबाज अच्छी गेंदबाजी कर रहे थे, इसलिए मैं खुदसे बातें करते हुए धर्य रखे हुए था।

आईएएनएस