आईपीएल: आईपीएल का खराब फार्म चिंता का विषय नहीं : पूरन

October 14th, 2021

हाईलाइट

  • निकोलस पूरन ने माना है कि आईपीएल के दौरान वह अपना सर्वश्रेष्ठ खेल नहीं दिखा सके
  • पूरन ने इस साल आईपीएल में सिर्फ 7.72 के औसत से 85 रन बनाए थे

डिजिटल डेस्क,दुबई। वेस्टइंडीज के उपकप्तान निकोलस पूरन ने माना है कि आईपीएल के दौरान वह अपना सर्वश्रेष्ठ खेल नहीं दिखा सके, लेकिन वह इसको लेकर अधिक चिंतित भी नहीं हैं। उन्होंने कहा, 'आईपीएल अब मेरे लिए खत्म हो चुका है। अब मुझे अपने आप को फिर से फोकस करना है, ताकि वेस्टइंडीज के लिए विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन कर सकूं। पिछले कुछ सप्ताह मेरे लिए अच्छे नहीं गए। मैं परिणाम के पीछे अधिक भाग रहा था और प्रक्रिया को दरकिनार कर दिया। मैंने इसका मूल्य भी चुकाया। इसलिए मैं उन चीजों को भुलाकर फिर से नेट में कड़ी मेहनत करना चाहता हूं।'

पूरन ने इस साल आईपीएल में पंजाब किंग्स की ओर से खेलते हुए सिर्फ 7.72 के औसत से 85 रन बनाए थे जबकि 2020 में उनका फॉर्म शानदार रहा था और तब उन्होंने 35.30 के औसत और 169.71 के बेहतरीन स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे। उन्होंने कहा कि आईपीएल से पहले वेस्टइंडीज के लिए अंतर्राष्ट्रीय मैचों और फिर गयाना के लिए कैरेबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) में उनका रिकॉर्ड बहुत अच्छा था, इसलिए आईपीएल को एक बुरा सपना मानकर आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा, 'मेरा क्रिकेट आत्मविश्वास पर टिका हुआ है। आईपीएल के पहले चरण के दौरान मैंने छह-सात मैचों में 20 से कुछ अधिक रन (छह पारियों में 28 रन) बनाए थे। लेकिन इसके बाद मैंने वेस्टइंडीज के लिए तीन सीरीज खेली , उसमें अच्छा किया। सीपीएल में भी मेरा प्रदर्शन सही रहा। इसलिए कुछ मैचों के आधार पर कुछ नहीं कहा जा सकता।

मैं अपने‘प्रोसेस’पर विश्वास करता हूं और मेरा आत्मविश्वास बहुत ऊंचा है। मेरे दिमाग में कोई संदेह नहीं है और मैं अपने गेमप्लान को सही ढंग से अमली-जामा पहनाने को तैयार हूं।' पूरन ने कहा कि वेस्टइंडीज की टीम‘स्मार्ट क्रिकेट’खेलने के लिए पूरी तरह से तैयार है। 'हम स्ट्राइक रोटेट करने पर ध्यान दे रहे हैं। हालांकि हमारा मुख्य फोकस अभी भी पावर हिटिंग है क्योंकि उसी की बदौलत हमने पिछले दो टी20 विश्व कप जीते हैं।

(वार्ता)