दैनिक भास्कर हिंदी: NZ VS IND: शमी ने कहा- आप कैसे दो-चार मैचों के बाद बुमराह की क्षमता पर सवाल उठा सकते हैं

February 15th, 2020

हाईलाइट

  • शमी ने कहा, 2-4 मैचों में खराब प्रदर्शन करने पर बुमराह की मैच जिताने की काबिलियत को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता
  • बुमराह को हाल ही में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई तीन मैचों की वनडे सीरीज में एक भी विकेट भी नहीं मिला था

डिजिटल डेस्क। चोट से वापसी के बाद भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह न्यूजीलैंड दौरे पर अब तक कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। इस पर लोगों ने बुमराह की आलोचना करनी शुरु कर दी है। ऐसे में मोहम्मद शमी अब बुमराह के समर्थन में उतरे हैं। शमी ने कहा है कि, बुमराह ने देश के लिए जो कुछ हासिल किया है, उसे भुलाया नहीं जा सकता है।

बुमराह को हाल ही में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई तीन मैचों की वनडे सीरीज में एक भी विकेट नहीं मिला था। बुमराह और शमी इस समय सेडन पार्क में न्यूजीलैंड-XI के खिलाफ जारी तीन दिवसीय अभ्यास मैच में भारत के लिए खेल रहे हैं। इस मैच में शमी ने अब तक तीन और बुमराह ने 2 विकेट लिए हैं।

बुमराह के कई मैच जिताऊ प्रदर्शनों को लोग कैसे भूल सकते हैं
शमी ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद संवाददातओं से कहा, एक के बाद एक कई वनडे में बुमराह के कई मैच जिताऊ प्रदर्शनों को लोग कैसे भूल सकते हैं? मैं समझ सकता हूं कि हम किसी विषय पर चर्चा कर रहे हैं। सिर्फ इसलिए क्योंकि उन्होंने दो मैचों में प्रदर्शन नहीं किया है। आप सिर्फ मैच जीतने से ही उनकी क्षमता को नजरअंदाज नहीं कर सकते।

शमी ने कहा, बुमराह ने भारत के लिए जो हासिल किया है, उसे आप कैसे भूल सकते हैं या कैसे उसे अनदेखा कर सकते हैं? इसलिए अगर आप सकारात्मक सोचते हैं, तो यह खिलाड़ी के लिए भी अच्छा होता है और उसका आत्मविश्वास भी बढ़ता है। शमी ने साथ ही बताया कि जब खिलाड़ी का खराब समय आता है तो लोग अपनी सोच कैसे बदल लेते हैं।

शमी ने कहा, लोग बहुत अलग तरीके से सोचते हैं और जब आप कुछ मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तो आपके बारे में उनका दृष्टिकोन बदल जाता है। इसलिए हमारे लिए यह सही है कि हमें ज्यादा सोचना नहीं चाहिए। शमी ने जहां एक ओर बुमराह का बचाव किया तो उसने दूसरी ओर उन्होंने युवा तेज गेंदबाज नवदीप सैनी की भी तारीफ की।

शमी ने कहा, वह युवा है। उनके पास प्रतिभा, गति और ऊंचाई है और इसलिए उन्हें इसका फायदा भी मिलता है। लेकिन हां, किसी को तो उनका मार्गदर्शन करना है और उन्हें अपने साथ लेकर चलना है। उन्हें समर्थन की जरूरत है। वह अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं, लेकिन सीधे अनुभव नहीं मिलेगा। उम्मीद है कि यह समय जल्द ही आएगा और हम सीनियर उनकी मदद करने के लिए वहां हैं।
 

खबरें और भी हैं...