comScore

शोक: रणजी ट्रॉफी में सर्वाधिक विकेट लेने वाले पूर्व दिग्गज खिलाड़ी राजिन्दर गोयल का निधन, कभी नहीं बन पाए टीम इंडिया का हिस्सा

शोक: रणजी ट्रॉफी में सर्वाधिक विकेट लेने वाले पूर्व दिग्गज खिलाड़ी राजिन्दर गोयल का निधन, कभी नहीं बन पाए टीम इंडिया का हिस्सा

हाईलाइट

  • घरेलू क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ी रहे राजिन्दर गोयल का रविवार को 77 की उम्र में निधन
  • लेफ्ट आर्म स्पिनर गोयल कभी भारतीय टीम का हिस्सा नहीं बन पाए
  • गोयल ने 24 साल के घरेलू क्रिकेट करियर में हरियाणा के लिए 750 विकेट चटकाए थे
  • गोयल के नाम रणजी ट्रॉफी में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड है, उन्होंने 637 विकेट झटके थे

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। अपने समय में घरेलू क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ी रहे राजिन्दर गोयल का रविवार को निधन हो गया। वह 77 साल के थे और पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे। लेफ्ट आर्म स्पिनर गोयल कभी भारतीय टीम का हिस्सा नहीं बन पाए। हालांकि, उन्होंने अपने 24 साल के घरेलू क्रिकेट करियर में हरियाणा के लिए 750 विकेट चटकाए थे। हरियाणा के लिए खेलने के अलावा उन्होंने पंजाब और दिल्ली का भी प्रतिनिधित्व किया था। गोयल के नाम रणजी ट्रॉफी में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड है। उन्होंने रणजी में 637 विकेट झटके। उन्हें 2017 में सीके नायडू लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। उनके निधन पर BCCI समेत कई खिलाड़ियों ने सोशल मीडिया पर दुख व्यक्त किया।

BCCI के पूर्व अध्यक्ष रणबीर सिंह महेंद्र ने कहा, क्रिकेट के लिए यह एक बहुत बड़ा नुकसान है और मेरे लिए यह एक व्यक्गित क्षति है। अगर वह देश में बाएं हाथ के सबसे अच्छे स्पिनर नहीं थे तो भी सबसे अच्छे में से एक थे। उनका 750 विकेट लेने का रिकॉर्ड, उनकी जबरदस्त क्षमता को दिखाता है। रणबीर सिंह ने कहा, उन्होंने रणजी ट्रॉफी में हरियाणा, दिल्ली और पंजाब का प्रतिनिधित्व किया। संन्यास के बाद खेल में उनका योगदान बहुत बड़ा था। वह सज्जन व्यक्ति थे, जो बहुत अंत तक सक्रिय रहे। उनके निधन के बाद क्रिकेट जगत ने अपने एक जेवर को खो दिया है। मैं उन्हें बहुत याद करूंगा। 

BCCI के मौजूदा अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा, हमने घरेलू क्रिकेट के एक पूर्व दिग्गज खिलाड़ी को खो दिया। उनका रिकॉर्ड बताता है कि वे कितने शानदार गेंदबाज थे। वे 25 साल से ज्यादा क्रिकेट खेले। इससे पता चलता है कि खेल के लिए उनका समर्पण कितना ज्यादा था।

टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने ट्वीट कर लिखा, शानदार गेंदबाज, जिसने सटीक लाइन लेंथ से हमेशा बल्लेबाजों को परेशान किया। दुख की इस घड़ी में उनके परिवार को सांत्वना। 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट कर लिखा, बेहत विनम्र इंसान, 750 फर्स्ट क्लास विकेट लिए, लेकिन कभी भारत के लिए नहीं खेले। उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि।

कमेंट करें
QEwD1