दैनिक भास्कर हिंदी: 3rd WOMEN IPL: कल से तीन टीमों के बीच होंगे चार मैच, 9 नवंबर को फाइनल

November 3rd, 2020

हाईलाइट

  • सुपरनोवाज ने अब तक पिछले दोनों टूर्नामेंट में अपने सभी मैच जीते
  • वेलोसिटी का दारोमदार काफी हद तक 16 वर्षीय शेफाली वर्मा पर टिका रहेगा
  • बीसीसीआई ने 2018 में इस टूर्नामेंट की शुरुआत की थी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पुरुषों की इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) अपने अंतिम चरण में है। वहीं बुधवार से तीसरे वूमन इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की शुरुआत होगी। इसमें 3 टीमों के बीच चार मुकाबले होंगे और 9 नवंबर को फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। टूर्नामेंट में 3 टीमें मौजूदा चैंपियन सुपरनोवाज, पिछले साल का उप विजेता वेलोसिटी और ट्रेलब्लेजर्स भाग लेंगी। इसमें भारतीय महिला क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़़ियों के अलावा इंग्लैंड, श्रीलंका, बांग्लादेश, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज की खिलाड़ी एक-दूसरे के खिलाफ अपना कौशल और दमखम दिखाएंगे।

पुरुषों की इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) अपने अंतिम चरण में है। वहीं बुधवार से तीसरे वूमन इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की शुरुआत होगी। इसमें तीन टीमों के बीच चार मुकाबले होंगे और 9 नवंबर को फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। टूर्नामेंट में 3 टीमें मौजूदा चैंपियन सुपरनोवाज, पिछले साल का उप विजेता वेलोसिटी और ट्रेलब्लेजर्स भाग लेंगी। इसमें भारतीय महिला क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़़ियों के अलावा इंग्लैंड, श्रीलंका, बांग्लादेश, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज की खिलाड़ी एक-दूसरे के खिलाफ अपना कौशल और दमखम दिखाएंगे। 

अजेय हैं सुपरनोवाज
हरमनप्रीत कौर की अगुवाई वाली टीम सुपरनोवाज ने अब तक पिछले दोनों टूर्नामेंट में अपने सभी मैच जीते हैं। वह अपने अभियान की शुरुआत मिताली राज की अगुवाई वाले वेलोसिटी टीम के खिलाफ करेगी और उसकी निगाह लगातार तीसरा खिताब जीतने पर टिकी रहेगी। हरमनप्रीत पिछले टूर्नामेंट में शानदार फॉर्म में थी। उन्होंने तीन मैचों में से दो में अर्धशतक जमाए। फाइनल में उनकी 37 गेंदों पर 51 रन की पारी ने जीत में अहम भूमिका निभाई थी। भारत की टी-20 कप्तान अपनी शानदार फॉर्म में वापसी करने की कोशिश करेंगी। इस साल के शुरू में ऑस्ट्रेलिया में महिला विश्व टी-20 में उन्होंने लचर प्रदर्शन किया था। हरमनप्रीत ने पांच मैचों में 6.00 की औसत से रन बनाए जिसका खामियाजा भारत ने भुगता और उसे उप विजेता से संतोष करना पड़ा। जेमिमा रॉड्रिग्स पर भी सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। पिछले सत्र में मुंबई की इस क्रिकेटर ने सर्वाधिक 123 रन बनाए थे ओर उन्हें टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया था।

वेलोसिटी भी किसी से कम नहीं
विरोधी टीम में मिताली आगे बढ़कर नेतृत्व करने के लिए तैयार होगी। पिछले साल आखिरी ओवर में चार विकेट गंवाने से उनकी टीम को हार झेलनी पड़ी थी और अब उनकी टीम उसका बदला चुकता करने की कोशिश करेगी। वेलोसिटी का दारोमदार काफी हद तक 16 वर्षीय शेफाली वर्मा पर टिका रहेगा जिन्होंने विश्व टी-20 में सर्वाधिक नौ छक्के लगाए थे। सभी अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी कोविड-19 के कारण फरवरी-मार्च में महिला विश्व टी-20 के बाद पहली बार मैदान पर दिखेंगे। इसलिए उनके फिटनेस स्तर को देखना दिलचस्प होगा।

ट्रेलब्लेजर्स की कमान स्मृति मंधाना के पास
टूर्नामेंट में थाईलैंड के सलामी बल्लेबाज नाथकन चंथाम भी हिस्सा लेंगी, जिन्होंने विश्व टी-20 में अपने देश की तरफ से पहला अर्धशतक जमाया था। वह टूर्नामेंट में खेलने वाली पहली एसोसिएट क्रिकेटर हैं। वह ट्रेलब्लेजर्स की तरफ से खेलेगी जिसकी कप्तान भारतीय सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना हैं। ट्रेलब्लेजर्स की टीम में अनुभवी तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी, इंग्लैंड की स्पिनर सोफी एक्लेसटोन और वेस्टइंडीज की स्टार डींड्रा डोटिन शामिल हैं। बीसीसीआई ने 2018 में इस टूर्नामेंट की शुरुआत की थी। पहले टूर्नामेंट में केवल एक मैच मुंबई में खेला गया था। तब हरमनप्रीत कौर की अगुवाई वाले सुपरनोवाज ने ट्रेलब्लेजर्स को तीन विकेट से हराया था।

सुपरनोवाज: हरमनप्रीत कौर (कप्तान), जेमिमा रॉड्रिग्स (उप कप्तान), चमारी अटापट्टू, प्रिया पुनिया, अनुजा पाटिल, राधा यादव, तानिया भाटिया (विकेटकीपर), शशिकला सिरीवर्धने, पूनम यादव, शकीरा सेल्मन, अरुंधति रेड्डी, पूजा वस्त्राकर, आयुषी सोनी, अयाबोंगा खाका और मुस्कान मलिक।

वेलोसिटी: मिताली राज (कप्तान), वेदा कृष्णमूर्ति (उप कप्तान), शेफाली वर्मा, सुषमा वर्मा (विकेटकीपर), एकता बिष्ट, मानसी जोशी, शिखा पांडे, देविका वैद्य, सुश्री दिब्यादर्शनी, मनाली दक्षिणिनी, लीघ कास्पेरेक, डैनियल वाइट, सुन लूस, जहाँआरा आलम और एम अनघा।

ट्रेलब्लेजर्स: स्मृति मंधाना (कप्तान), दीप्ति शर्मा (उप कप्तान), पूनम राउत, ऋचा घोष, डी हेमलता, नुजहत परवीन (विकेटकीपर), राजेश्वरी गायकवाड़, हरलीन देओल, झूलन गोस्वामी, सिमरन दिल बहादुर, सलमा खातून, सोफी एक्लेस्टोन, नाथकन चंथाम, डींड्रा डोटिन और काशवी गौतम।