comScore

कोहली ने कहा- विंडीज के 70 के दशक की टीम के साथ हमारी तुलना जल्दबाजी

कोहली ने कहा- विंडीज के 70 के दशक की टीम के साथ हमारी तुलना जल्दबाजी

हाईलाइट

  • विराट कोहली ने कहा, वेस्टइंडीज के 1970 के समय की टीम के साथ मौजूदा भारतीय टीम की तुलना करना जल्दबाजी होगी
  • कोहली ने कहा, यह सवाल उनसे 7 साल बाद पूछा जाना चाहिए, ना कि 7 मैचों के बाद

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। अपनी कप्तानी में भारत को लगातार चौथी बार पारी के अंतर से टेस्ट मैच में जीत दिलाने वाले विराट कोहली ने रविवार को कहा कि, वेस्टइंडीज के 1970 के समय की टीम के साथ मौजूदा भारतीय टीम की तुलना करना जल्दबाजी होगी। भारत ने यहां ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेले गए अपने पहले दिन-रात के टेस्ट मैच में रविवार को बांग्लादेश को एक पारी और 46 रनों से हरा दिया। यह भारत की पारी के अंतर से लगातार चौथी जीत है और वह ऐसा करने वाली दुनिया की पहली टीम बन गई है। कप्तान के रूप में विराट कोहली की यह 33वीं जीत है।

इसके साथ भारत ने दो मैचों की सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली। उसने इंदौर में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भी बांग्लादेश को एक पारी और 130 रनों से हराया था। घर में भारत की यह लगातार 12वीं सीरीज जीत है और उसका अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। वेस्टइंडीज की टीम भी 1970 से 1980 तक अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में थी और अब भारत भी उसी फॉर्म में है। कोहली ने मैच के बाद कहा कि, यह सवाल उनसे 7 साल बाद पूछा जाना चाहिए ना कि 7 मैचों के बाद।

कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, मैं केवल इतना ही कह सकता हूं कि इस समय हम अपने खेल में टॉप पर हैं। आप केवल 7 मैचों के बाद ही टीम के दबदबे का आंकलन नहीं कर सकते। आप वेस्टइंडीज की टीम की बात कर रहे हैं, जिन्होंने 15 वर्षो तक अपना दबदबा कायम रखा था। उन्होंने हंसते हुए कहा, आप मुझसे यह सवाल संन्यास के समय पूछ सकते हैं। हां, आप 7 साल बाद यह सवाल पूछ सकते हैं, ना कि 7 मैचों के बाद।

कोहली ने कहा कि, अब सोच बदल गई है और वे अब विश्व में किसी भी टीम को हरा सकते हैं। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि, तुलना के लिए अभी समय बाकी है। लेकिन जिस तरह से हम खेल रहे हैं, उससे काफी उत्साहित हैं। अब हम न्यूजीलैंड में खेलेंगे और हमारे दिमाग में अब अगली सीरीज जीत है। देखते हैं कि विदेश में क्या होता है।

कप्तान ने कहा, हम टेस्ट क्रिकेट खेलने का इंतजार करते हैं। यही सोच बदली है। हमें पता है कि अगर हम अच्छा खेलते हैं तो हम दुनिया में कहीं भी जीत सकते हैं। आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप शुरू होने के बाद से भारत की 7 मैचों में यह लगातार 7वीं जीत है। अंकतालिका में भारत के अब 360 अंक हो गए हैं और वह मजबूती से टॉप पर कायम है।

कोहली ने कहा कि, अगर टीम एक सीरीज घर में और एक बाहर खेलती है तो इससे इस प्रारूप में संतुलन बना रहेगा। उन्होंने कहा, अगर हम एक सीरीज घर में और एक बाहर खेलते हैं तो इससे यह प्रारूप अधिक संतुलित होगा। जैसा कि मैंने कहा कि हम अच्छा क्रिकेट खेल रहे हैं। लेकिन हमने विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में केवल 2 टेस्ट मैच ही घर से बाहर खेले हैं। उन्होंने कहा, अगर हम 2 सीरीज घर में और और 2 बाहर खेलें और इसमें 300 अंक हासिल करते हैं तो फिर आप कह सकते हैं हम वास्तव में अच्छा खेल रहे हैं।

कमेंट करें
hIfR1