दैनिक भास्कर हिंदी: उप्र में बिजली गिरने व आंधी तूफान से 13 की मौत

May 31st, 2020

हाईलाइट

  • उप्र में बिजली गिरने व आंधी तूफान से 13 की मौत

डिजिटल डेस्क, लखनऊ, 31 मई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में शनिवार रात आई आंधी-तूफान और आकाशीय बिजली गिरने के कारण 13 लोगों की जान चली गई। मारे गए लोगों में आठ उन्नाव से और कन्नौज जिले से पांच लोग शामिल हैं। वहीं कई जिलों में संपत्ति को भी भारी नुकसान पहुंचा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जानमाल के नुकसान पर दुख व्यक्त किया है और मृतकों के परिजनों के लिए चार-चार लाख रुपये और घायल व्यक्तियों के उचित इलाज की घोषणा की है।

उन्नाव के अतिरिक्त जिलाधिकारी (एडीएम) राकेश सिंह ने कहा, जिले में बारिश और आंधी में आठ लोगों की मौत हो गई। जापसारा गांव में बिजली गिरने से एक 14 वर्षीय लड़की और एक 45 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं बिजली गिरने से एक 70 वर्षीय महिला को भी गंभीर चोट आई थी, जिसके बाद उन्हें सुमेरपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

एडीएम ने कहा कि बिजली गिरने से हरिश्चंद्रपुर निवासी 38 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि बस्ती खेड़ा निवासी 26 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो उस पर पेड़ गिरने से हो गई। वहीं आंधी के दौरान सेमरिमऊ और परशुराम पुरवा गांवों के दो व्यक्तियों की मौत तब हो गई जब उन पर पेड़ गिर गया।कन्नौज जिले के विभिन्न हिस्सों में आंधी और बिजली गिरने से करीब पांच लोगों की मौत हो गई है।अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) गजेंद्र कुमार ने कहा कि छतरपुर गांव में एक गैस सर्विस गोदाम की छत गिरने से पिकअप वाहन के 45 वर्षीय चालक की मौत हो गई।

सुरसा गांव के दिनेश पाल की दीवार गिरने के कारण उसके नीचे आने से मौत हो गई, जबकि भिकनीपुरवा निवासी 80 वर्षीय व्यक्ति की मौत भी घर की दीवार गिरने से उसके नीचे दबने से हो गई।वहीं तिजलापुर गांव में तेज हवाओं के कारण एक ट्रोली के पलटने से उसके नीचे आए आठ वर्षीय बच्चे की मौत हो गई। यह चौथी मौत थी।पांचवीं मौत रमाईपुर में हुई, जहां एक पेड़ के गिरने के दौरान उसकी चपेट में आए एक युवक की मौत हो गई। लखनऊ में शनिवार शाम को 57.4 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई। इसने एक दिन में हुई इतनी बारिश का 61 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया।