Uttar Pradesh: छठवें निकाह को लेकर विवादों में आए पूर्व मंत्री चौधरी बशीर ट्रिपल तलाक केस में अरेस्‍ट

August 20th, 2021

डिजिटल डेस्क, आगरा। तीन तलाक मामले में यूपी के पूर्व मंत्री चौधरी बशीर को आगरा में गिरफ्तार किया गया है। गुरुवार देर रात गिरफ्तार किए गए बशीर ने अग्रिम जमानत के लिए अदालत में याचिका दायर की थी, जिसे खारिज कर दिया गया। चौधरी बहुजन समाज पार्टी की सरकार में मंत्री रह चुके हैं। करीम नगर निवासी नगमा ने 31 जुलाई को मंटोला थाने में पूर्व मंत्री के खिलाफ तीन तलाक का मामला दर्ज कराया था।

नगमा के मुताबिक उनकी शादी चौधरी बशीर से 11 नवंबर 2012 को हुई थी और उनके दो बेटे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि उन्हें मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है।

नगमा ने संवाददाताओं से कहा कि 23 जुलाई को उन्हें सूचना मिली थी कि चौधरी बशीर छठी बार शादी करने की तैयारी कर रहे हैं और जब वह अपने ससुराल गई तो पूर्व मंत्री ने उनके साथ गाली-गलौज की और तीन तलाक देकर घर से बाहर निकाल दिया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने उनकी शिकायत पर कहा कि पूर्व मंत्री के खिलाफ मंटोला थाने में तीन तलाक का मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस ने कहा कि मामला दर्ज होने के बाद से पूर्व मंत्री फरार हैं और पुलिस उसकी तलाश कर रही है। इसके बाद पूर्व मंत्री ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से सत्र अदालत में अग्रिम जमानत की अर्जी दाखिल की। अतिरिक्त जिला सरकारी वकील (एडीजीसी) राधा कृष्ण गुप्ता ने पूर्व मंत्री के खिलाफ कई थानों में दर्ज एक दर्जन से अधिक मामलों का आपराधिक इतिहास पेश करते हुए कहा कि आरोपी का अपराध गंभीर प्रकृति का है।

एसपी (ग्रामीण) वेंकट अशोक ने कहा कि बशीर को गिरफ्तार कर लिया गया है और आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि आरोपी का आपराधिक इतिहास खुद उसकी स्थिति बयां करता है। उन्होंने कहा, उस पर आईपीसी की धारा 302, 307 और अन्य प्रावधानों के तहत अपराध का आरोप लगा है।

आईएएनएस