दैनिक भास्कर हिंदी: ट्रक में बोरियों में छिपाकर ले जा रहे थे गांजा, पुलिस ने माल सहित पकड़ा

July 26th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। ट्रक में प्लास्टिक की चार बोरियों में गांजा छिपाकर ले जा रहे तीन तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पकड़े गए तस्कर भूरालाल चितरलाल मीणा  (40), संजय गांधी नगर, जिला  काेटा, राजस्थान,  अखिलेश परामराम झरिया (25), बागासहाई, जिला जबलपुर, म.प्र. और चोथमल सत्यनारायण मीणा (25), भोवरा, जिला बरान, राजस्थान निवासी है। तीनों से 78 किलो 360 ग्राम गांजा जब्त किया गया है। गांजे की कीमत करीब 7 लाख 84 हजार रुपए है। पुलिस ने ट्रक व गांजा जब्त किया है। तीनों तस्करों पर बुटीबोरी थाने में मामला दर्ज किया गया है। ग्रामीण क्राइम ब्रांच पुलिस की टीम ने गुप्त सूचना पर ढाबा रुईखैरी परिसर में  24 जुलाई को उक्त कार्रवाई की। तस्कर यह माल आंध्रप्रदेश से ट्रक में छिपाकर ले जाते समय बुटीबोरी इलाके में पुलिस के हत्थे चढ़े।

गुप्त सूचना मिलने पर हाईवे पर शुरू की जांच
पुलिस के अनुसार ग्रामीण क्राइम ब्रांच पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि, आंध्रप्रदेश से राष्ट्रीय महामार्ग नं.-7 नागपुर के रास्ते ट्रक (आर.जे.-11-जी.बी.-4632) में गांजे की बड़ी खेप आने वाली है। क्राइम ब्रांच की टीम ने बुटीबोरी पुलिस के साथ संयुक्त कार्रवाई की योजना बनाई। इस बारे में वर्धा क्राइम ब्रांच पुलिस को भी जानकारी दी। पश्चात पुलिस की संयुक्त टीम ने न्यू हाईवे ढाबा रुईखैरी के सामने नाकाबंदी कर वाहनों की जांच शुरू की। 

तस्करों के 4 मोबाइल कब्जे में लिए
उक्त नंबर का ट्रक नागपुर की ओर आते देखकर रोका गया। ट्रक में भूरालाल मीणा, अखिलेश झरिया और  चोथमल मीणा सवार थे। पुलिस ने तीनों को ट्रक से नीचे उतारा। ट्रक की तलाशी लेने पर केबिन में 4 प्लास्टिक की बोरी में गांजा मिला। करीब 78 किलो 360 ग्राम गांजा था। तीनों तस्करों को बुटीबोरी थाने में मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया। तस्करों से 4 मोबाइल भी जब्त किए गए हैं। 

क्राइम ब्रांच व बुटीबोरी पुलिस की संयुक्त कार्रवाई
ग्रामीण पुलिस अधीक्षक  राकेश ओला, अपर पुलिस अधीक्षक  राहुल माकणीकर के मार्गदर्शन में कार्रवाई की गई। नागपुर ग्रामीण क्राइम ब्रांच पुलिस विभाग के पुलिस निरीक्षक  अनिल जिट्टावार, सहायक पुलिस निरीक्षक राजीव कर्मलवार, जितेन्द्र वैरागड़े, एएसआई बाबा केचे, हवलदार राजेन्द्र चौधरी, नीलेश बर्वे, पुलिस नायब  रामराव आड़े, दिनेश अधापुर, सत्यशील काेठारे, सिपाही अमृत किनगे, बुटीबोरी थाने के  उप-निरीक्षक  मोरखेड़े, हवलदार मिलिंद नांदूरकर, सतेंद्र रंगारी, वर्धा ग्रामीण क्राइम ब्रांच के हवलदार चंद्रकांत बुरंगे, स्वप्निल भारद्वाज, राजेश तिवस्कर व अन्य पुलिसकर्मियों ने कार्रवाई में सहयोग किया।
 

खबरें और भी हैं...