घटना: मणिपुर में चुनाव से पहले जदयू उम्मीदवार को गोली मारी

February 27th, 2022

डिजिटल डेस्क, इंफाल। मणिपुर में चुनावी हिंसा की घटनाएं जारी हैं। जनता दल (यूनाइटेड) के एक उम्मीदवार को शनिवार देर रात अज्ञात लोगों ने गोली मार दी। पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने कहा कि अक्षेत्रीगांव विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे जद (यू) के उम्मीदवार वेंगबम रोजित सिंह को दो बाइक सवार बदमाशों ने उस समय गोली मार दी, जब वह अपनी पार्टी के लोगों के साथ चुनाव संबंधी गतिविधियों के बाद घर लौट रहे थे।

गोली लगने के बाद सिंह को तुरंत एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। सुरक्षा बलों ने अज्ञात अपराधियों को पकड़ने के लिए इंफाल पूर्वी जिले में तलाशी अभियान शुरू किया है। क्षेत्रीगांव विधानसभा सीट उन 38 निर्वाचन क्षेत्रों में शामिल है, जहां दो चरण के मणिपुर विधानसभा चुनाव के पहले चरण में सोमवार को मतदान होना है।

एक अन्य घटना में शनिवार की रात चुराचांदपुर जिले के गंगपीमुअल गांव में एक घर में हुए बम विस्फोट में एक बच्चे समेत दो लोगों की मौत हो गयी और पांच अन्य घायल हो गये। दोनों घटनाएं पांच जिलों में मतदान के लिए 48 घंटे से भी कम समय में हुई हैं। चुनाव आयोग द्वारा 8 जनवरी को मणिपुर विधानसभा चुनाव के कार्यक्रम घोषित किए जाने के बाद से यह हिंसा की एक बड़ी घटना है।

चुनावों से पहले, मणिपुर में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार की अलग सहयोगी नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) ने पहले चुनाव आयोग (ईसी) से शिकायत की थी कि इसके उम्मीदवारों को कई उग्रवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं द्वारा धमकाया जा रहा था। इससे पहले 19 फरवरी को एनपीपी के एंड्रो निर्वाचन क्षेत्र के उम्मीदवार एल. संजय सिंह के पिता एल. शामजई सिंह को अज्ञात बंदूकधारियों ने दाहिने कंधे में गोली मार दी थी, जब वह यारीपोक याम्बेम लीकाई में एक अभियान कार्यक्रम में थे।

विपक्षी कांग्रेस और अन्य राजनीतिक दल अज्ञात बदमाशों या संदिग्ध उग्रवादियों द्वारा हिंसा की धमकी को देखते हुए चुनाव आयोग से सुरक्षा कड़ी करने की बार-बार मांग कर रहे हैं। बता दें मणिपुर की 60 सीटों वाली विधानसभा के लिए दो चरणों में 28 फरवरी और 5 मार्च को मतदान होगा। वोटों की गिनती 10 मार्च को होगी।

आईएएनएस