मामला दर्ज: महाराष्ट्र पुलिस ने 2 मोस्ट वांटेड नक्सलियों को किया गिरफ्तार

October 28th, 2021

डिजिटल डेस्क, गडचिरोली। गढ़चिरौली पुलिस ने एक गुप्त अभियान के दौरान साधारण नागरिकों के रूप में छिपे दो मोस्ट वांटेड नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। प्रत्येक पर 2,00,000 रुपये का इनाम था। एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी। पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल ने कहा कि वे 32 वर्षीय मुदा मासा जोही और मैनु दोरपेटी हैं, जो सुरजागढ़ खनन परियोजना के विरोध में स्थानीय ग्रामीणों की एक रैली के दौरान नागरिक के रूप में भाग ले रहे थे।

इनमें जोही एक एक्शन टीम सदस्य हैं और दोरपेटी एक जन मिलिशिया कार्यकर्ता हैं और दोनों के खिलाफ गंभीर मामले दर्ज हैं। पुलिस को 26 अक्टूबर को यह जानकारी मिली थी कि ग्रामीणों के रूप में नक्सयिों का एक समूह रैली में घुसपैठ कर सकता है। गढ़चिरौली पुलिस ने उनका पता लगाने के लिए अपनी टीम के लोगों को सादे कपड़ों में तैनात किया था।

गोयल ने कहा कि भीड़ से उनकी सफलतापूर्वक पहचान करने के बाद, सोमय मुंडे, समीर शेख, अनुज तारे जैसे शीर्ष अधिकारियों द्वारा निर्देशित गुप्त पुलिस टीमों ने उन्हें फंसाने और गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की। उनके रिकॉर्ड के अनुसार, जोही सीधे जरेवाड़ा (27 फरवरी, 2019), बोडमेटा (15 मार्च, 2020), कोपर्शी (4 मार्च, 2021) और अन्य गंभीर अपराधों और खूनी मुठभेड़ों में शामिल थे।

दोरपेटी व्यक्तिगत रूप से 19 सितंबर (2021) को ह्रेडी-सुरजागड रोड पर एक ग्रामीण सोमाजी सी. सदमेक की निर्मम हत्या, 11 मई को गट्टा में एक सुरक्षा चौकी पर हमले और अन्य बड़े अपराधों से जुड़ा था। गोयल ने कहा कि हिंसक कृत्यों और अन्य अपराधों की उनकी श्रृंखला को ध्यान में रखते हुए, महाराष्ट्र पुलिस ने प्रत्येक के ऊपर दो लाख रुपये का इनाम घोषित किया था।

आईएएनएस