comScore

सुशांत मामला : स्वामी बोले, सीबीआई को मीडिया रिलीज से कहीं अधिक करना होगा

September 28th, 2020 19:00 IST
 सुशांत मामला : स्वामी बोले, सीबीआई को मीडिया रिलीज से कहीं अधिक करना होगा

हाईलाइट

  • सुशांत मामला : स्वामी बोले, सीबीआई को मीडिया रिलीज से कहीं अधिक करना होगा

मुम्बई, 28 सितम्बर (आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी के राज्य सभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने सोमवार को सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जारी जांच को लेकर सीबीआई द्वारा बयान देने पर अपनी प्रतिक्रिया दी। स्वामी ने कहा कि जांच एजेंसी को इस मामले में आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए।

स्वामी ने अपने आधिकारिक ट्विटर एकाउंट से लिखा, सीबीआई ने एक मीडिया रिलीज जारी किया है, जिसके माध्यम से यह बताने की कोशिश की गई है कि अब तक इस मामले में क्या हुआ है लेकिन सीबीआई को इससे अधिक करना होगा। सीबीआई को इस मामले में आरोपियों की पहचान कर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करना चाहिए।

स्वामी के वकील इसकरण सिंह भंडारी ने भी अपने गैरसत्यापित एकाउंट से ट्वीट किया कि सीबीआई इस मामले में अब देरी कर रही है।

इसकरण ने लिखा, सीबीआई की जांच की रफ्तार काफी धीमी है। लोग परेशान हो रहे हैं। हमें सीबीआई पर भरोसा है लेकिन अब कई सवाल खड़े होने लगे हैं और सीबीआई को इन सवालों का जवाब देना चाहिए क्योंकि इसी से लोगों का विश्वास उस पर बना रहेगा।

उल्लेखनीय है कि सुशांत सिंह राजपूत के पारिवारिक वकील विकास सिंह द्वारा कुछ दिनों पहले सीबीआई से जांच में अपडेट मांगने के बाद शीर्ष एजेंसी ने सोमवार को एक रिलीज जारी करते हुए कहा कि वह पेशेवर तरीकों से जांच के सभी एंगल को देख रही है।

सीबीआई के प्रवक्ता आर.के. गौर ने एक बयान में कहा, सीबीआई सुशांत की मौत के मामले में पेशेवर तरीके से जांच कर रही है, जिसमें सभी पहलुओं पर गौर किया जा रहा है और अभी तक किसी भी पहलू को खारिज नहीं किया गया है।

उन्होंने कहा कि आगे की जांच जारी है। सिंह ने पिछले सप्ताह एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की जांच सुशांत की मौत के मामले में वास्तविक सच्चाई को सामने लाने के लिए हो रही जांच से अधिक सामने आ रही है।

सीबीआई ने बिहार सरकार के अनुरोध पर केंद्र से अधिसूचना मिलने के बाद 6 अगस्त को मामला दर्ज किया था।

सीबीआई की एसआईटी टीम 20 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट द्वारा मामले को एजेंसी को सौंपने के एक दिन बाद मुंबई गई थी।

जेएनएस

कमेंट करें
pTvUX