दैनिक भास्कर हिंदी: CBSE: बोर्ड ने जारी की गाइडलाइल, एक्जाम रूम में छात्र नहीं ले जा सकेंगे ये सामग्री

January 5th, 2020

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में बैठने के लिए छात्रों की 75 फीसदी अटेंडेंस अनिवार्य करने के बाद सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (CBSE) ने नई गाइडलाइन जारी की है। अब तक बोर्ड परीक्षाओं में सिर्फ कैलकुलेटर और मोबाइल जैसे इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स ही बैन थे, लेकिन अब CBSE ने एक्जाम रूम में डिजिटल या स्मार्ट घड़ी ले जाने पर भी पाबंदी लगा दी है। यानी अब 10वीं और 12वीं के छात्र बोर्ड परीक्षाओं में डिजिटल या स्मार्ट घड़ी पहनकर परीक्षा नहीं दे सकेंगे। इसके अलावा छात्रों के लिए एक्जाम में स्कूल यूनीफॉर्म पहनना भी अनिवार्य किया गया है।

क्या है गाइडलाइन में ?
CBSE ने जारी की गई गाइडलाइन में बताया है कि यदि कोई भी छात्र डिजिटल या स्मार्ट घड़ी पहनकर परीक्षा देने आता है, तो उसकी घड़ी उतरवा ली जाएगी। बोर्ड के एक्जाम कंट्रोलर संयम भारद्वाज का कहना है कि एक्जाम सेंटर्स के हर एक्जाम रूम में दीवार घड़ी लगी रहेगी। इसके अलावा हमेशा की तरह एक घंटा पूरा होने पर बैल बजाकर छात्रों को सूचित कर दिया जाएगा। बता दें कि CBSE की ओर से पहले से ही कॉम्पिटिटिव एक्जाम्स में कैंडिडेट्स पर डिजिटल या स्मार्ट घड़ी पहनने के लिए पाबंदी है, लेकिन अब 10वीं और 12वीं बोर्ड एक्जाम्स में भी ये नियम लागू किया जा रहा है।

एक्जाम में स्कूल यूनीफॉर्म पहनना भी अनिवार्य
डिजिटल या स्मार्ट घड़ी पर पाबंदी लगाने के अलावा CBSC ने छात्रों के लिए एक्जाम सेंटर्स में स्कूल यूनीफॉर्म पर आना भी अनिवार्य कर दिया है। बोर्ड की ओर से सभी एक्जाम सेंटर्स को आदेश दिए गए हैं कि छात्रों की पहचान और उनकी गिनती स्कूल यूनीफॉर्म के आधार पर की जाए। बोर्ड ने कहा है कि यदि छात्रों का एक्जाम सेंटर उनका स्कूल ही रहता है, तो भी उन्हें यूनीफार्म में अनिवार्य है। बता दें कि काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एक्जामिनेशंस (CISCE) ने भी डिजिटल या स्मार्ट घड़ी पर पाबंदी और एक्जाम में स्कूल यूनीफॉर्म पहनने को लेकर गाइडलाइन जारी की है।