अनुराग ठाकुर : सिनेमा ने दुनिया भर में बनाई भारत की पहचान

April 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली/मुंबई। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने गुरुवार को कहा कि सिनेमा दुनिया भर में भारत की पहचान बनाने में सफल रहा है।

ठाकुर ने गुरुवार को मुंबई के पेडर रोड पर फिल्म डिवीजन परिसर में स्थित भारतीय सिनेमा के राष्ट्रीय संग्रहालय (एनएमआईसी) का दौरा किया।

सिनेमा की भूमिका के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा, भारतीय सिनेमा हमारे देश की सॉफ्ट पावर है, जो कि दुनिया भर में करोड़ों लोगों के दिलों पर राज करता है।

उन्होंने कहा मनोरंजन के जरिए भारतीय सिनेमा दुनिया भर में भारत की एक पहचान बनाने में कामयाब रहा है। दुनिया में सबसे ज्यादा संख्या में फिल्में भारत में बनती हैं।

उन्होंने देश भर के फिल्म उत्साही लोगों को भारतीय सिनेमा के इतिहास और इसके विकास के बारे में जानने के लिए एनएमआईसी का दौरा करने के लिए प्रोत्साहित किया।

ठाकुर ने आगे कहा, यहां एनएमआईसी में कुछ समय बिताएं, संग्रहालय आपको 100 साल पीछे ले जाएगा, जब सिनेमा बिना किसी आधुनिक टेक्नोलॉजी या उपकरणों से बनाया जाता था।

उन्होंने कहा, आज हम एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट्स, ग्राफिक्स और गेमिंग, टेक्नोलॉजी के बारे में बात करते हैं, लेकिन यहां हमें देखने को मिलेगा कि उन दिनों इनके अभाव में फिल्में कैसे बनती थीं और अब तक उन्होंने क्या प्रगति की है।

सूचना और प्रसारण मंत्री ने उस समय के फिल्म निर्माताओं और तकनीशियों द्वारा उठाई गई परेशानियों की भी चर्चा करते हुए कहा कि फिल्मों की शूटिंग करने के लिए वे किस प्रकार कठिन इलाकों में बड़े-बड़े कैमरे लेकर जाया करते थे।

उन्होंने कहा कि टेक्नोलॉजी ने मानव जीवन और फिल्म बनाने को आसान बना दिया है।

परंपरा के अनुरूप मंत्री ठाकुर ने एनएमआईसी के परिसर में एक पौधा भी लगाया और फिल्म डिवीजन, एनएमआईसी, केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड और एनएफडीसी के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।

अत्याधुनिक ऑडिटोरियम से युक्त एनएमआईसी कॉम्प्लेक्स, मई में डॉक्यूमेंट्री, शॉर्ट और एनिमेशन फिल्मों के 17वें अंतर्राष्ट्रीय मुंबई फिल्म महोत्सव (एमआईएफएफ) की मेजबानी करेगा।

(आईएएनएस)