comScore

नहीं रहीं बोमन ईरानी की मां, निधन से पहले मांगे थे मलाई कुल्फी और कुछ आम 

नहीं रहीं बोमन ईरानी की मां, निधन से पहले मांगे थे मलाई कुल्फी और कुछ आम 

डिजिटल डेस्क,मुंबई।  बॉलीवुड जगत से एक बार फिर बुरी खबर है। हाल ही में एक्टर बोमन ईरानी की मां जेरबानू का निधन हो गया है। जेरबानू की उम्र 94 वर्ष थी। इस बात की जानकारी बोमन ने सोशल मीडिया के जरिए साझा की है। हालांकि, उनकी मां का निधन किस वजह से हुआ हैं,ये बात अब तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। बोमन की मां को बॉलीवुड के तमाम सितारें और उनके फैंस सोशल मीडिया पर श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे है। एक्टर ने अपनी मां के निधन पर एक इमोशनल नोट शेयर किया, जिसमें उन्होंने लिखा,कल रात उनने मलाई कुल्फी और कुछ आम मांगे। वह चाहती तो चांद और तारे मांग सकती थीं। दरअसल, बोमन अपनी मां के काफी करीब थे और उनकी मां भी बोमन से बहुत प्यार करती थी। बता दें कि, बोमन के पिता नहीं थे इसलिए मदर ईरानी ने ही बोमन को मां और पिता दोनों का प्यार दिया। 

बोमन ईरानी हर साल फादर्स डे पर अपने पिता की जगह मां को विश किया करते थे क्योंकि, जब एक्टर 32 साल के थे तब उनके पिता ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था और अब 94 साल की उम्र में मां भी नहीं रहीं। बोमन ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट पर मां की एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि, मदर ईरानी का आज सुबह नींद में ही शांति से निधन हो गया। जेर 94 वर्ष की थी। उन्होंने मेरे लिए माता और पिता दोनों की भूमिका निभाई, जब वह 32 वर्ष की थीं। वह अद्भुत आत्मा थी। मजेदार कहानियों से भरी हुई, जो केवल वह ही बता सकती थी। सबसे लंबी भुजा जो हमेशा अपनी जेब में कुछ न कुछ टटोलता था, तब भी जब वहाँ बहुत कुछ नहीं था। जब उन्होंने मुझे फिल्मों में भेजा, तो कहा कि 'पॉपकॉर्न मत भूलना'। वह अपने भोजन और अपने गीतों से प्यार करती थी और वह एक फ्लैश में विकिपीडिया और आईएमडीबी की तथ्य-जांच करती रहती थी। तीक्ष्ण, तीक्ष्ण, तीक्ष्ण, अंत तक। वह हमेशा कहती थीं, ''आप ऐसे अभिनेता नहीं हैं, जो लोग आपकी तारीफ करें। आप केवल एक अभिनेता हैं इसलिए आप लोगों को स्माइल दे सकते हैं।" "लोगों को खुश करो" उन्होंने कहा। कल रात उन्होंने मलाई कुल्फी और कुछ आम मांगे। वह चाहती तो चाँद और तारे माँग सकती थी। वह थी, और हमेशा रहेगी......एक स्टार।

बोमन की मां से पहले 'द लंचबॉक्स' की कास्टिंग डायरेक्टर सहर अली लतीफ का भी निधन हो चुका है। सहर महज 40 साल की थी। रिपोर्ट्स की मानें तो उनकी मौत कार्डियक अरेस्ट की वजह से हुई थी। उनकी किडनी ने काम करना बंद कर दिया था, जिसकी वजह से उन्हें मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती करवाया गया। लगभग 8 दिनों तक जिंदगी और मौत से लड़ते हुए सहर ने अस्पताल में अंतिम सांसें ली। बता दें कि, सहर ने 'द लंचबॉक्स' के अलावा 'दुर्गामती' जैसी फिल्मों में भी काम किया था। फिल्म 'द लंचबॉक्स' की एक्ट्रेस निम्रत कौर ने अपनी और सहर अली लतीफ की एक फोटो शेयर की और लिखा था कि, "मुंबई के सबसे दयालु, सबसे प्यारे लोगों में से एक ने मुझे अपना जीवन उपहार में दिया। अभी भी इस असत्य समाचार को समझने का प्रयास कर रही हूं....मेरे सबसे प्यारे, सबसे प्यारे सेहर के प्रकाश में यात्रा करो। जीवन की अप्रत्याशित, भयानक कमी चकरा देने वाली बनी हुई है... दूसरी तरफ आपसे मिलने का इंतजार है।"

कमेंट करें
w0mQ7