दैनिक भास्कर हिंदी: फिल्म सरकार पर AIADMK ने जताया एतराज तो रजनीकांत ने कर दी कड़ी निंदा

November 10th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई । तमिल सुपरस्टार रजनीकांत ने एक्टर विजय की हाल में रिलीज फिल्म सरकार के कुछ दृश्यों पर सत्तारूढ़ AIADMK के आपत्ति जताने पर कड़ा ऐतराज जताया है। उन्होंने सरकार नाम की इस फिल्म को सेंसर बोर्ड से हरी झंडी मिलने के बावजूद ऐसा करने पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह दृश्यों को हटाने की मांग की कड़ी निंदा करते है।  रजनीकांत ने एक ट्वीट में कहा, 'सेंसर बोर्ड की हरी झंडी के बाद भी कुछ दृश्यों को हटाने की मांग को लेकर विरोध करना और फिल्म के प्रदर्शन में बाधा डालना कानून सम्मत नहीं हैं।' उन्होंने कहा, 'मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं।' उद्योग जगत ने गुरुवार को कहा कि सरकार फिल्म के निर्माता 'आपत्तिजनक' दृश्यों को हटाने और दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता के संदर्भ को 'मूक' करने पर सहमत हो गए हैं।

 

AIADMK के कुछ वरिष्ठ मंत्री फिल्म के कुछ दृश्यों को लेकर नाराज हैं। उनकी मांग है कि विवादित दृश्यों को हटाया जाए। उन्होंने यह भी धमकी दी कि अगर फिल्म निर्माता ऐसा नहीं करते हैं तो वह कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं। कानून मंत्री सी वी षणमुगम ने कहा कि कुछ दृश्यों की वजह से हिंसा भड़क सकती है और इसे रोकने के लिए कदम उठाए जाएंगे। सिनेमाघर मालिकों के एक संगठन ने ऐलान किया है कि शुक्रवार दोपहर से संपादित फिल्म दिखाई जाएगी। इस फिल्म से जुड़े सूत्रों ने कहा कि 'समझौते' पर सहमति बन गई है। निर्देशक ए आर मुरूगादास, संगीतकार ए आर रहमान और अभिनेता विजय एवं कीर्ति सुरेश की मुख्य भूमिकाओं वाली इस फिल्म का निर्माण सन पिक्चर्स ने किया है।


सरकार के डायरेक्टर की गिरफ्तारी पर लगी रोक
मद्रास हाईकोर्ट ने सिर्फ दो दिन में 100 करोड़ रूपये की कमाई करने वाली तमिल फिल्म सरकार के निर्देशक ए आर मुरुगाडोस की अग्रिम जमानत याचिका मंजूर कर ली है । मुरुगाडोस ने गिरफ्तारी से बचने के लिए मद्रास हाईकोर्ट में एंटीसिपेटरी बेल के लिए अर्जी दी थी । अदालत में आज दोपहर उनकी अर्जी पर सुनवाई हुई। अदालत ने उनकी एंटीसिपेट्री बेल अप्लीकेशन को स्वीकार करते हुए आदेश दिया कि उन्हें 27 नवंबर तक गिरफ्तार नहीं किया जा सकता ।

समाज में हिंसा को बढ़ावा देना का लगा आरोप
विजय स्टारर फिल्म सरकार इसी हफ्ते देश दुनिया में रिलीज हुई है। इस फिल्म ने तमिलनाडु बॉक्स ऑफिस पर बाहुबली का रिकॉर्ड तोड़ दिया है लेकिन फिल्म बड़े विवाद में फंस गई है। फिल्म के कुछ सीन्स को लेकर जब AIADMK के कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया तो राज्य सरकार भी हरकत में आ गई । दरअसल पार्टी का आरोप है कि फिल्म में पिछली जयललिता सरकार के कामकाज का मजाक उड़ाया गया है। तमिलनाडु के सूचना और प्रसारण मंत्री ने भी इस बात पर कड़ी आपत्ति जताई थी । तमिलनाडु सरकार में मंत्री सी वी षड्मुगम ने आरोप लगाया है कि इस फिल्म के जरिए समाज में हिंसा को बढ़ावा दिया जा रहा है। प्रदेश सरकार फिल्म से जुड़े कलाकारों और निर्देशक के खिलाफ कार्रवाई करेगी।