दैनिक भास्कर हिंदी: 'बॉलीवुड में यौन शोषण पर बातें उठी तो बहुत से हीरो को छोड़ना पड़ेगा काम'

December 8th, 2017

डिजिटल डेस्क, मुंबई। यौन हिंसा के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली सभी महिलाएं को टाइम मैगजीन द्वारा 'पर्सन ऑफ द ईयर-2017' चुने जाने के एक दिन बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर बॉलीवुड में यौन हिंसा की बात उठेगी तो बहुत सारे हिरो का काम छोड़ना पड़ेगा। अपनी नई फिल्म फुकरे-2 के प्रमोशन में बिजी ऋचा चड्ढा ने एक इंटरव्यू में कहा, 'बॉलीवुड में यौन शोषण की बात करेंगे तो बहुत सारे हीरो और इंडस्ट्री के कईं लोग अपना काम ही नहीं बल्कि विरासत भी खो देंगे।'

बता दें कि इस साल यौन हिंसा के खिलाफ सोशल मीडिया पर चलाया गया #MeToo कैंपेन काफी चर्चा में रहा है। इस कैंपेन के तहत दुनियाभर की लाखों महिलाओं ने अपने साथ हुई यौन हिंसा को शेयर किया था। भारत में भी कई महिलाओं ने इस कैंपेन के तहत खुलासे किए। यौन हिंसा के खिलाफ यह अभियान हॉलीवुड एक्ट्रेस एश्ले जुड के उस पोस्ट से शुरू हुआ था, जिसमें उन्होंने हॉलीवुड दिग्‍गज हार्वी वाइंस्टाइन के खिलाफ यौन हिंसा का आरोप लगाया था। इसके बाद यौन हिंसा के खिलाफ बोलने वालों की बाढ़ सी आ गई। देखते ही देखते इस अभियान ने वैश्विक रूप ले लिया था।
 

यौन हिंसा के खिलाफ आवाज उठाने वाली महिलाएं बनीं 'टाइम पर्सन ऑफ द ईयर'


इस अभियान पर जब ऋचा चड्ढा से बात की गई, तो उन्होंने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि बॉलीवुड में अभी महिलाएं हॉलीवुड की तरह खुलकर यौन शोषण के खिलाफ बोलेंगी। इसमें थोड़ा समय लगेगा, लेकिन जब भी यह होगा इंडस्ट्री के कईं दिग्गजों की शामत आ जाएगी।' उन्होंने कहा, 'जो निर्माता महिलाओं से जुड़ी फिल्‍में बनाते हैं, महिला सशक्तिकरण की बातें करते हैं और खुद को प्रगतिशील बताते हैं वो सब बर्बाद हो जाएंगे।' ऋचा ने यह भी कहा कि अगले 4-5 सालों में ऐसा हो जाएगा जब हमारे देश में भी महिलाएं खुलकर यौन शोषण के खिलाफ बोलेंगी।