comScore

कर्नाटक के मंत्री बासवराज हुए कोविड-19 पॉजिटिव

September 15th, 2020 15:00 IST
 कर्नाटक के मंत्री बासवराज हुए कोविड-19 पॉजिटिव

हाईलाइट

  • कर्नाटक के मंत्री बासवराज हुए कोविड-19 पॉजिटिव

बेंगलुरु, 15 सितंबर (आईएएनएस)। कर्नाटक विधानमंडल के 21 सितंबर को शुरू होने जा रहे मानसून सत्र से पहले राज्य के शहरी विकास मंत्री बयराती बासवराज का कोविड परीक्षण पॉजिटिव आया है। मंगलवार को एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मंत्री के सचिव ने कहा, बासवराज का कोविड परीक्षण पॉजिटिव आने के बाद शहर के उत्तरी उपनगर में कोलंबिया एशिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्हें शरीर में दर्द के अलावा अन्य कोई लक्षण नहीं था।

56 वर्षीय बासवराज शहर के पूर्वी उपनगर के.आर.पुरम से सत्तारूढ़ भाजपा के विधायक हैं।

बासवराज कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे और 5 दिसंबर को विधानसभा उपचुनाव में उसी निर्वाचन क्षेत्र से फिर से चुने गए थे। उन्होंने 14 महीने की जद (एस)-कांग्रेस गठबंधन सरकार के खिलाफ विद्रोह किया था और जुलाई 2019 में विधानसभा सीट से इस्तीफा दे दिया।

बासवराज के अलावा राज्य के पशुपालन मंत्री प्रभु चौहान का भी 9 सितंबर को कोरोना परीक्षण पॉजिटिव आया था।

वहीं मैसुरु जिले के हुंसुर से विपक्षी कांग्रेस विधायक एच.पी.मंजूनाथ का भी 11 सितंबर को परीक्षण पॉजिटिव पाया गया था। उनमें लक्षण न होने के कारण उनका इलाज घर पर ही चल रहा है।

इससे पहले 5 सितंबर को राज्य के श्रममंत्री शिवराम हेब्बार के वायरस संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी।

इसके अलावा राज्य के मुख्यमंत्री बी.एस.येदियुरप्पा समेत आधा दर्जन मंत्री भी इस दौरान कोरोना पॉजिटिव हुए और इलाज के बाद ठीक होकर वे सभी अस्पताल से डिस्चार्ज भी हो चुके हैं।

वहीं विपक्षी नेता सिद्धारमैया और कांग्रेस पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष डी.के. शिवकुमार भी बीमारी से उबर चुके हैं।

इतने सारे मंत्रियों और विधायकों के संक्रमित होने के कारण विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर कागेरी हेगड़े ने 8 सितंबर को सभी विधायकों से कहा कि वे 8 दिवसीय मानसून सत्र से पहले आरटी-पीसीआर टेस्ट कराएं।

उन्होंने कहा था, जिन लोगों का परीक्षण निगेटिव आएगा, उन्हें ही सत्र में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी। सभी विधायकों को विधानसभा में प्रवेश करते समय राज्य द्वारा संचालित अस्पताल से कोरोना निगेटिव होने का एक प्रमाणपत्र लेकर आना चाहिए।

कोरोना को फैलने से रोकने के लिए विधानसभा में प्रोटोकॉल के तहत सभी इंतजाम किए गए हैं।

एसडीजे/एसजीके

कमेंट करें
uIr9g