नासा : 2021 आर्कटिक महासागर से बर्फ का रिकॉर्ड सबसे नीचे पहुंचा

September 24th, 2021

हाईलाइट

  • 2021 आर्कटिक महासागर से बर्फ का रिकॉर्ड सबसे नीचे पहुंचा: नासा

डिजिटल डेस्क, वाशिंगटन। नेशनल स्नो एंड आइस डेटा सेंटर और नासा के वैज्ञानिकों के अनुसार, 2021 में आर्कटिक ग्रीष्मकालीन समुद्री बर्फ उपग्रह रिकॉर्ड में 12वें सबसे निचले स्थान पर पहुंच गई है। वैज्ञानिकों ने पाया कि आर्कटिक महासागर और पड़ोसी घाटियों में समुद्री बर्फ 2021 को उत्तरी ध्रूव में वसंत और गर्मियों में घटने के बाद साल के सबसे कम स्तर पर पहुंच गई है।

इस साल आर्कटिक समुद्री बर्फ की न्यूनतम सीमा घटकर 47.2 लाख वर्ग किलोमीटर हो गई। औसत सितंबर न्यूनतम सीमा रिकॉर्ड महत्वपूर्ण गिरावट दिखने को मिली है क्योंकि उपग्रहों ने 1978 में लगातार मापना शुरू किया था। पिछले 15 वर्षों (2007 से 2021) 43 साल के उपग्रह रिकॉर्ड में सबसे कम 15 न्यूनतम हैं। 2020 में 37.4 लाख वर्ग किलोमीटर और 2019 में 41.4 लाख के रिकॉर्ड पर दूसरी और तीसरी स्तर पर सबसे कम थी।

उत्तरी अमेरिका और यूरेशिया में नए तापमान रिकॉर्ड, यूएस वेस्ट में सूखा, और ग्रीनलैंड की बर्फ की चादर तेजी से पिघलने के साथ, 2021 में कम समुद्री बर्फ पिघली, भले ही पूरा ग्रह सामान्य से अधिक गर्म था। नासा के गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर के एक समुद्री बर्फ वैज्ञानिक क्लेयर पाकिर्ंसन ने एक बयान में कहा, मुझे नहीं लगता कि आर्कटिक समुद्री बर्फ की सीमा इस साल वैश्विक तापमान अधिक होने के बावजूद कोई रिकॉर्ड नहीं तोड़ रही है। नेशनल स्नो एंड आइस डेटा सेंटर के समुद्री बर्फ शोधकर्ता वॉल्ट मायर ने कहा, हम हर साल समुद्री बर्फ के कम होने की उम्मीद नहीं करते हैं। ग्लोबल वामिर्ंग के साथ भी हम हर साल पृथ्वी पर हर जगह तापमान के गर्म होने की उम्मीद नहीं करते हैं।

(आईएएनएस)