comScore

पुराने अंडरवेयर से हुई थी बगदादी की मौत की पुष्टि, जिसे जासूस लाया था चुराकर

October 29th, 2019 21:53 IST
पुराने अंडरवेयर से हुई थी बगदादी की मौत की पुष्टि, जिसे जासूस लाया था चुराकर

हाईलाइट

  • बगदादी के अंडरवेअर और ब्लड सैंपल से किया था डीएनए टेस्ट
  • जासूस ने अमेरिकी सेना को ब्लड सैंपल और अंडरवेयर दिया था
  • अमेरिकी सेना की घेराबंदी के बाद बगदादी ने खुद को विस्फोटक से उड़ा लिया था

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। इस्लामिक स्टेट के सरगना अबू बकर अल बगदादी की मौत की पुष्टि उसके अंडरवेयर से हुई थी। बगदादी का यह अंडरवेयर उसके गुप्त ठिकाने की जानकारी देने वाले मुखबिर ने चुराया था। इस अंडरवेयर और ब्लड सेंपल्स के डीएनए की मदद से ही बगदादी के शव की 100 प्रतिशत पुष्टि की गई। सीरियाई कुर्द संगठन ने बताया कि उन्होंने बगदादी के करीबी सर्कल तक अपनी पहुंच स्थापित की थी और एक जासूस की मदद से बगदादी के अंडरवेअर चुरा लिए गए थे।  

इस मुखबिर को अमेरिकी सेना की मदद कर रहे कुर्दिश सशस्त्र बल ने अपनी निगरानी में रखा था। इस मुखबिर ने इदलिब में स्थित बगदादी के ठिकाने का पूरा खाका सुरक्षा बलों के समक्ष पेश किया था और एक-एक कमरे के ले-आउट के बारे में बताया था।

बगदादी ने खुद को विस्फोटक से उड़ा लिया था
ज्ञात हो कि शनिवार शाम को अमेरिकी सेना ने उत्तर पश्चिमी सीरिया के इदलिब प्रांत के बारिशा गांव में बगदादी के ठिकाने पर धावा बोला था। इस कार्रवाई में बुरी तरह से घिरने के बाद बगदादी ने खुद को कमर में बंधे विस्फोटक से उड़ा लिया था। उसके साथ तीन मासूम बच्चों की भी मौत हो गई थी। डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक कुर्द संगठन सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्स ने बताया कि बगदादी के घर का पूरा खाका इस मुखबिर ने ही बताया था।

रेप के बाद चुराया था अंडरवेयर
कुर्दिश डेमोक्रेटिक फोर्सेज के एक सीनियर अधिकारी पोलाट कान ने बताया कि शनिवार को बगदादी के ठिकाने पर हुई रेप की घटना के बाद मुखबिर ने हमें उसके डर्टी अंडरवेअर दिए थे, जिनसे डीएनए टेस्ट में मदद मिली और शव की पूरी तरह से पहचान हुई कि यह अबू बकर अल बगदादी का ही था।

ब्लड सेंपल भी जासूस ने मुहैया कराया था
यही नहीं मुखबिर ने अबू बकर अल बगदादी का ब्लड सैंपल भी मुहैया कराया था। इन सैंपलों के जरिए ही अमेरिकी इंटलिजेंस अधिकारियों ने बगदादी के शव की पुष्टि की। ट्रंप ने भी बगदादी को ढेर करने में मदद के लिए कुर्द संगठन को धन्यवाद दिया है। रविवार को उन्होंने कहा था कि कुर्द मिलिट्री ऑपकेशन में शामिल नहीं थे, लेकिन उन्होंने कुछ ऐसी अहम जानकारियां दी थीं, जिनसे बड़ी मदद मिली।

कमेंट करें
ONcuL