comScore

दावा: WHO ने कहा- बाकी वायरस जैसा घातक नहीं है कोविड 19

दावा: WHO ने कहा- बाकी वायरस जैसा घातक नहीं है कोविड 19

हाईलाइट

  • 1800 से भी ज्यादा लोगों ने गंवाई जान
  • 70,000 से अधिक लोगों में लक्षण की पुष्टि

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। घातक कोरोना वायरस (कोविड-19) का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। चीनी प्रशासन के मुताबिक अब तक वायरस की चपेट में आने से 1800 से भी ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। वहीं 70,000 से अधिक लोगों में संक्रमण की पुष्टि की गई है।  चीनी स्वास्थ्य आयोग ने अपनी दैनिक रिपोर्ट में बताया कि हुबेई प्रांत में सोमवार को 93 और लोग इस वायरस के शिकार बनें। इसी बीच वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) ने दावा किया है कि कोविड-19, कोरोना वायरस के पहले के बाकी संक्रमण जैसे मर्स या सार्स के मुकाबले कम खतरनाक है।

एकसमान उपाय लागू करने की जरूरत नहीं
WHO का कहना है कि इस वायरस को लेकर हर जगह एक जैसे उपाय लागू करने की जरूरत नहीं है। WHO के अध्यक्ष टेड्रोस एधेनॉम गैब्रेयेसिस का कहना है कि वायरस के नियंत्रण उपाय स्थिति के अनुपात में होने चाहिए। उन्होंने कहा कि 'एक जैसे उपाय कारगर साबित नहीं होंगे।' इसके अलावा WHO की ओर से उस सुझाव को भी खारिज कर दिया कर दिया गया, जिसमें बताया गया था कि जापान के डायमंड प्रिंसेज पोत की तरह बाकी के सभी क्रूज पोतों को रोककर अलग रखा जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें : Coronavirus side effects: मोदी सरकार को 'मूडीज' का झटका, घटाया विकास दर का अनुमान

जापान में फंसे यात्री
जापान में एक लग्जरी क्रूज डायमंड प्रिंसेस(Diamond Princess) को योकाहामा पोर्ट (Yokohama Port) पर सरकार ने आइसोलेट रखा है। जहाज के 219 यात्री कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, जिसमें 2 भारतीय भी शामिल है। जहाज पर क्रू और टूरिस्ट को मिलाकर कुल 138 भारतीय है। क्रूज में फंसे भारतीयों ने मोदी सरकार से उन्हें बचाने की गुहार भी लगाई है।

कैसे फैलता है वायरस?
कोरोना वायरस उसी तरह से फैलता है जैसे सर्दी जुखाम फैलता है। इससे बचने के तरीके वही हैं, जिससे आप सर्दी जुखाम से बचते हैं। US सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) ने बयान जारी करते हुए यात्रियों को वुहान में जानवरों के बाजारों में जाने से बचने की सलाह दी है। इसके अलावा यह भी कहा गया है कि वह बिना पका हुआ मीट न खांए और इस रोग से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से बचें और अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोए।

ये भी पढ़ें : Coronavirus: 1,110 की मौत के बीच WHO ने वायरस को दिया ये नया नाम

कमेंट करें
ncmg6