दैनिक भास्कर हिंदी: तुर्की ने अमेरिका समेत 5 देशों को सौंपी खशोगी मर्डर से जुड़ी रिकॉर्डिंग

November 11th, 2018

हाईलाइट

  • जर्नलिस्ट जमाल खशोगी की मौत से जुड़ी पूरी रिकॉर्डिंग तुर्की ने 5 देशों को सौंपी
  • इस्तांबुल स्थित सऊदी दूतावास के अंदर हुई थी खशोगी की हत्या

डिजिटल डेस्क, इस्तांबुल। सऊदी जर्नलिस्ट जमाल खशोगी की मौत से जुड़ी पूरी रिकॉर्डिंग तुर्की ने सऊदी अरब, अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी और फ्रांस को सौंप दी है। तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगन ने शनिवार को यह बात कही। एर्दोगन ने पेरिस में प्रथम विश्वयुद्ध से जुड़े एक कार्यक्रम के लिए रवाना होने से पहल कहा, 'हमने खशोगी केस से जुड़ी रिकॉर्डिंग सऊदी अरब, अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस को ब्रिटेन को सौंप दी है। हमने इस मामले से जुड़ी सारी चीजें इन देशों के साथ साझा की हैं।' हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि रिकॉर्डिंग में क्या था।

एर्दोगन ने कहा, 'सऊदी के 18 संदिग्ध नागरिकों की पहचान की गई है। इनमें से 15 लोग खशोगी की हत्या से ठीक पहले तुर्की आए थे।' एर्दोगन ने एक बार फिर कहा कि सऊदी अरब को यह बताना चाहिए कि खशोगी की बॉडी कहां हैं..क्यों अब तक उनकी बॉडी नहीं मिली...यह भी बताया जाना चाहिए कि उनकी बॉडी के साथ क्या किया गया..

गौरतलब है कि खशोगी एक नामी पत्रकार थे। सऊदी अरब के किंग सलमान के शासन और उनके बेटे मोहम्मद बिन सलमान के खिलाफ कई लेख लिखे थे। आखिरी बार वह 2 अक्टूबर को इस्तांबुल स्थित सऊदी दूतावास के अंदर जाते हुए देखे गए थे। वह शादी के लिए जरूरी दस्तावेज लेने के लिए दूतावास में गए थे। बाद में खुलासा हुआ कि उनकी दूतावास में ही हत्या कर दी गई थी। सउदी ने भी इस बात को कबूल कर लिया है कि दूतावास में ही खशोगी की हत्या हुई है। हालांकि किंग मोहम्मद बिन सलमान कह चुके हैं कि उन्हें खशोगी की हत्या के बारे में जानकारी नहीं थी और जो भी इसके पीछे होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी। तुर्की इस मामले की जांच कर रहा है और शुरू से ही सऊदी अरब को हत्या का आरोपी बता रहा है।