दैनिक भास्कर हिंदी: 26/11 अटैक के पाक कनेक्शन पर इमरान का कबूलनामा, बोले- सजा देंगे

December 9th, 2018

हाईलाइट

  • इमरान खान 26/11 अटैक के पाकिस्तान कनेक्शन को स्वीकारा
  • इमरान खान ने कहा- हमारी सरकार मुंबई अटैक के साजिशकर्ताओं को सजा देना चाहती है
  • इमरान ने यह भी कहा कि भारत अगर शांति के लिए एक कदम बढ़ाता है, तो हम दो कदम बढ़ाएंगे

डिजिटल डेस्क, वाशिंगटन। 26/11 अटैक के लिए जिम्मेदार आतंकियों को पाकिस्तान सजा देना चाहता है। यह बात खुद पाक पीएम इमरान खान ने कही है। वाशिंगटन पोस्ट को इंटरव्यू देते हुए इमरान ने कहा है कि उनकी सरकार इस आतंकी हरकत में शामिल होने वाले हर शख्स को सजा देना चाहती है। उन्होंने बताया कि ऐसे लोगों को सजा देना पाकिस्तान के ही हित में है।

भारत के साथ शांति वार्ता के लिए उत्सुक दिख रहे इमरान ने यह भी कहा है कि क्षेत्र में शांति के लिए भारत के एक कदम के बदले पाकिस्तान दो कदम उठाएगा। यह पहली बार है जब पाक पीएम इमरान ने सीधे तौर पर मुंबई अटैक का पाकिस्तानी कनेक्शन स्वीकार किया है।

गौरतलब है कि 26 नवंबर 2008 को मुंबई हमले को अंजाम दिया गया था। लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकियों ने इस हमले को अंजाम दिया था। ये आतंकी एक बोट के सहारे मुंबई तट पर भारी- भरकम हथियारों के साथ उतरे थे। इन आतंकियों ने मुंबई की ताज होटल और नरीमन हाऊस को अपना निशाना बनाया था। इस हमले में 166 लोगों की मौत हो गई थी, वहीं 300 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। इस हमले ने दुनिया को झकझोर दिया था। हमले के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध के कयास भी लगाए जा रहे थे।

इस अटैक को लेकर पाकिस्तानी सरकार की कार्रवाई को बताते हुए इमरान ने कहा, 'हमारी सरकार इस केस का स्टेटस देख रही है। इस मामले में हर दोषी को सजा दी जाएगी।' जब इमरान से मुंबई हमले के आरोपी जकी-उर-रहमान की रिहाई के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान की एंटी-टेररिज्म कोर्ट में सात एक्टिविस्ट के खिलाफ यह मामला चल रहा है। अब तक जांच एजंसियां इनके खिलाफ कोई ठोस सबूत पेश नहीं कर पाई है।'

बता दें कि भारत सरकार यह साफ कर चुकी है कि जब तक पाकिस्तान, 26/11 हमले के दोषियों को सजा नहीं देता, तब तक द्विपक्षीय सम्बंधों में सुधार संभव नहीं है। मोदी सरकार साफ कह चुकी है कि आतंक और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते। भारत लगातार लश्कर चीफ हाफिज सईद के खिलाफ सख्त एक्शन की मांग करता रहा है। हाफिज सईद अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित होने के बाद भी पाकिस्तान में खुलेआम घुम रहा है।