comScore

Coronavirus: PM इमरान ने कहा- पाकिस्तान में 25% आबादी गरीबी रेखा के नीचे, नहीं कर सकते लॉकडाउन

Coronavirus: PM इमरान ने कहा- पाकिस्तान में 25% आबादी गरीबी रेखा के नीचे, नहीं कर सकते लॉकडाउन

हाईलाइट

  • इमरान खान ने पाकिस्तान को पूरी तरह से लॉकडाउन करने से किया इनकार
  • पीएम ने कहा- 20 फीसदी से अधिक लोग गरीबी रेखा से नीचे, होगी दिक्कत

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर को रोकने के लिए दुनिया के कई देश लॉकडाउन हो गए हैं। वहीं प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान को पूरी तरह से लॉकडाउन करने से इनकार कर दिया है। पीएम का कहना है कि, पाकिस्तान की 25 फीसदी आबादी गरीबी रेखा के नीचे है, अगर देश को पूरी तरह से लॉकडाउन कर दिया जाता है तो काफी दिक्कतें होंगी, कई लोगों की जिंदगी भी बर्बाद हो जाएगी।

बता दें कि, पाकिस्तान में अब तक कोरोना वायरस के करीब 800 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। मामले बढ़ने पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम इमरान खान कहा, लॉकडाउन से अराजक स्थिति उत्पन्न हो जाएगी क्योंकि 25 फीसदी से अधिक लोग गरीबी रेखा के नीचे हैं, उनकी जिंदगियां बर्बाद हो जाएंगी। उन्होंने कहा, पाकिस्तान की स्थिति में फिलहाल लॉकडाउन की जरूरत नहीं है।

घरों के अंदर रहने की अपील
हालांकि, इमरान खान ने लोगों से खुद को पृथक करने और घरों के अंदर ही रहने की अपील की है। पीएम ने कहा, सरकार स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए है और उसी के हिसाब से जरूरी कदम उठाये जा रहे हैं। पाकिस्तान सरकार ने शनिवार को सभी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें दो सप्ताह के लिए स्थगित कर दी थी। ट्रेन सेवाएं भी सीमित कर दी गई हैं।

सिंध प्रांत को किया गया लॉकडाउन
गौरतलब है कि, पाकिस्तान के सिंध प्रांत ने राज्य स्तर पर 15 दिनों का लॉकडाउन किया है। सिंध प्रांत में ही कोराना के सबसे अधिक मामले सामने आए हैं। अबतक सिर्फ सिंध में 352 केस सामने आ चुके है, जबकि पूरे देश में मामलों की संख्या 800 तक पहुंच गई है।

COVID-19: कोरोना के कारण एक दिन का किया गया दिल्ली विधानसभा का बजट सत्र, आज होगा पेश

कमेंट करें
R78cU