दैनिक भास्कर हिंदी: UN में बोला भारत- अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद का चेहरा है पाकिस्तान

September 19th, 2017

डिजिटल डेस्क, न्यूयॉर्क। भारत ने सयुंक्त राष्ट्र में एक बार फिर पकिस्तान के आतंकी चेहरे को बेनकाब किया है। भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी विष्णु रेड्डी ने सयुंक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद की बैठक में पकिस्तान को वैश्विक आतंकवाद का चेहरा बताया। रेड्डी ने पकिस्तान की खिंचाई करते हुए कहा कि पकिस्तान को बॉर्डर पर लगाई गई आतंक की फैक्ट्री को बंद कर लेना चाहिए। 

सौंपे हुए सबूतों के आधार पर कार्रवाई करने की मांग उठाई
सयुंक्त राष्ट्र मानवाधिकार के 36वें सम्मलेन में भारत ने पकिस्तान को उन सभी आतंकियों के खिलाफ करवाई करने को कहा, जिनके खिलाफ पकिस्तान को सबूत सौंपे जा चुके हैं। पाकिस्तान को इस पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। बता दें कि भारत ने जम्मू-कश्मीर में क्रॉस बॉर्डर आतंकवाद के सबूत पकिस्तान को दिए थे, जिन पर अभी तक कोई भी कार्रवाई नहीं हो पाई है।

पाकिस्तान के कारण कश्मीर में है अस्थिरता
बैठक के दौरान रेड्डी ने कहा, 'पकिस्तान के विदेश मंत्री तक ने खुद ही इस बात को स्वीकार कर लिया है कि लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद जैसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिबंधित आतंकी संगठन पकिस्तान की जमीन से ही संचालित हो रहे हैं। पकिस्तान को इन आतंक के कारखानों को बंद करने और अपराधियों को सजा दिलाने की आवश्यकता है।' रेड्डी ने आगे कहा है कि, 'पीओके आतंकवाद का गढ़ बन चुका है। जिसके कारण हमें कश्मीर में स्थिरता कयाम करने में हमें काफी मुश्किलों का सामना करना पड रहा है।'