टॉप अमेरिकी CEOs से पीएम मोदी की मुलाकात : ब्लैकस्टोन का भारत में 40 बिलियन डॉलर का निवेश, 5G पर काम करेगी क्वालकॉम, ए़डॉब ने कहा- भारतीय लोग हमारे लिए सबसे बड़ी संपत्ति

September 24th, 2021

हाईलाइट

  • ब्लैकस्टोन का भारत में 40 बिलियन डॉलर का निवेश
  • भारत में 5G सहित कई क्षेत्रों में मिलकर काम करने की इच्छा-क्रिस्टियानो
  • एडॉब ने कहा कि 'हम चाहते हैं कि शिक्षा पर ज्यादा जोर दिया जाए और उसमें दिलचस्पी ली जाए

डिजिटल डेस्क, वाशिंगटन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 दिन के अमेरिका दौर पर हैं। इस कड़ी में पीएम मोदी ने अमेरिका की  5 दिग्गज कंपनियों के CEOs से बात की। इनमें क्वॉलकॉम, ब्लैकस्टोन ग्रुप, एडॉब, फर्स्ट सोलर, जनरल एटॉमिक्स के CEO शामिल हैं। पीएम मोदी की मुलाकात के बाद इन कंपनियों भारत के साथ कई क्षेत्रों में काम करने की इच्छा जताई है। वहीं, अरबों डॉलर का निवेश करने की बात कही है। 

अमेरिकी कंपनियां भारत को संभावनाओं वाले देश की तरह देख रही हैं-विवेक लाल

जनरल एटॉमिक्स के अध्यक्ष और सीईओ विवेक लाल ने पीएम मोदी के साथ बैठक के बाद कहा कि यह एक बेहतरीन बैठक थी। हमने प्रौद्योगिकी, भारत में नीतिगत सुधारों और निवेश के दृष्टिकोण से अपार संभावनाओं पर चर्चा की। विदेश मंत्रालय के मुताबिक विवेक लाल ने कहा कि हम जिन क्षेत्रों में काम करने की बात कर रहे हैं, वहां बहुत संभावनाएं हैं। मुझे लगता है कि अमेरिकी कंपनियां भारत को संभावनाओं वाले देश की तरह देख रहे होंगी। 

अगले 5 साल के दौरान भारत में और 40 अरब डॉलर का निवेश-स्टीफन ए श्वार्जमैन

ब्लैक स्टोन के चेयरमैन सीईओ स्टीफन ए श्वार्जमैन ने कहा कि यह (मोदी सरकार) विदेशी निवेशकों के लिए एक बहुत ही अनुकूल सरकार है। जो लोग रोज़गार पैदा करने के लिए भारत में पूंजी लगाना चाहते हैं, उनके सहयोग के लिए भारत सरकार को उच्च ग्रेड मिलना चाहिए।श्वॉर्जमैन ने पीएम से मुलाकात में कहा कि भारत उनके ग्रुप के लिए दुनिया में सबसे अच्छा बाजार रहा है। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया में सबसे तेज ग्रोथ वाला देश है, इसलिए यहां ग्रुप के लिए बनने वाली संभावनाओं को लेकर वह बहुत उत्साहित हैं। यह न्यूयॉर्क बेस्ड अमेरिकन अल्टरनेटिव इंवेस्टमेंट मैनेजमेंट कंपनी है। विदेश मंत्रालय के मुताबिक श्वॉर्जमैन ने पीएम को बताया कि ब्लैकस्टोन ने पहले ही इंडियन एसेट में 60 अरब डॉलर का निवेश किया हुआ है। श्वॉर्जमैन ने कहा कि उनके ग्रुप ने अगले 5 साल के दौरान भारत में और 40 अरब डॉलर का निवेश करने की योजना बनाई है।

एडॉब ने कहा कि 'हम चाहते हैं कि शिक्षा पर ज्यादा जोर दिया जाए और उसमें दिलचस्पी ली जाए

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि एडॉब के शांतनु नारायण भारत के बहुत अच्छे मित्र हैं। मैं उनके साथ एड-टेक से संबंधित दिलचस्प विचारों पर चर्चा करने, भारतीय स्टार्ट-अप का समर्थन करने और नवाचार को बढ़ावा देने के लिए बैठा। शांतनु ने भारत के प्रत्येक बच्चे तक वीडियो और एनिमेशन का आनंद लेने की इच्छा व्यक्त की। विदेश मंत्रालय ने बताया कि नारायण ने कहा, एडॉब ने कहा कि 'हम चाहते हैं कि शिक्षा पर ज्यादा जोर दिया जाए और उसमें दिलचस्पी ली जाए। उन्होंने कहा कि हमने जिन मुद्दों पर बात की, उनमें इनोवेशन में निवेश जारी रखना शामिल है।' उनका मानना है कि टेक्नोलॉजी में तरक्की की राह बनाने की क्षमता है।

एक विश्व, एक सूर्य और एक ग्रिड अभियान

फर्स्ट सोलर के सीईओ मार्क विडमार ने बताया कि स्पष्ट रूप से प्रधानमंत्री मोदी नेतृत्व में औद्योगिक नीति के साथ-साथ व्यापार नीति में एक मज़बूत संतुलन बनाने के लिए काम किया है, यह भारत में विनिर्माण स्थापित करने के लिए फर्स्ट सोलर जैसी कंपनियों के लिए एक आदर्श अवसर है। विदेश मंत्रालय के मुताबिक फर्स्ट सोलर के CEO मार्क विडमर ने पर्यावरण संरक्षण और उससे जुड़े उद्योगों को लेकर भारत सरकार की नीतियों पर खुशी जाहिर की। पीएम ने 450 मेगावॉट रिन्यूएबल एनर्जी के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को लेकर एक विश्व, एक सूर्य और एक ग्रिड अभियान और उससे जुड़ी संभावनाओं पर बात की।

भारत में 5G सहित कई क्षेत्रों में मिलकर काम करने की इच्छा-क्रिस्टियानो

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए बताया कि क्वॉलकॉम के CEO क्रिस्टियानो के साथ एक उपयोगी बैठक हुई। हमने भारत में अधिक से अधिक सार्वजनिक भलाई और तकनीकी अवसरों के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने के बारे में बात की। वह 5G में भारत की प्रगति और कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने के लिए PM-WANI जैसे हमारे प्रयासों में रुचि रखते थे। विदेश मंत्रालय के मुताबिक क्वालकॉम के CEO ने भारत में 5G सहित कई क्षेत्रों में मिलकर काम करने की इच्छा जताई। कंपनी के चिपसेट मोबाइल गेमिंग और 5जी टेक्नोलॉजी के मामले में कंज्यूमर्स की पॉपुलर चॉइस हैं।

जापान के प्रधानमंत्री से पीएम मोदी की मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाशिंगटन डीसी में जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा के साथ द्विपक्षीय बैठक में हिस्सा लिया। विदेश मंत्रालय ने बताया कि इतिहास में जापान के साथ भारत की एक विशेष रणनीतिक और वैश्विक साझेदारी निहित है जो समान मूल्यों पर आधारित है। आज PM मोदी ने वाशिंगटन डीसी में जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा से इंडो-पैसिफिक, क्षेत्रीय विकास, व्यापार, डिजिटल अर्थव्यवस्था आदि विषयों पर चर्चा की।

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन से पीएम मोदी की मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन के साथ द्विपक्षीय बैठक में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच आर्थिक संबंधों को बढ़ावा देने के साथ-साथ व्यक्तिगत संबंधों को बेहतर करने के लिए कई विषयों पर चर्चा की गई। विदेश मंत्रालय ने बताया कि ये ऑस्ट्रेलिया के साथ हमारी व्यापक रणनीतिक साझेदारी का एक और अध्याय है। इस बैठक में क्षेत्रीय और वैश्विक विकास के साथ-साथ कोविड -19, व्यापार, रक्षा, स्वच्छ ऊर्जा आदि से संबंधित क्षेत्रों में चल रहे द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा की।

खबरें और भी हैं...