दैनिक भास्कर हिंदी: Afghanistan: कंधार एयरपोर्ट पर रात में तीन रॉकेट दागे गए, सभी उड़ाने सस्पेंड की गई

August 1st, 2021

हाईलाइट

  • अफगानिस्तान के कंधार एयरपोर्ट पर रात में तीन रॉकेट दागे गए
  • इस हमले में अब तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं
  • 2 रॉकेट रनवे पर गिरे और ब्लास्ट हो गए

डिजिटल डेस्क, काबुल। अफगानिस्तान के कंधार एयरपोर्ट पर रात में तीन रॉकेट दागे गए। इनमें से 2 रनवे पर गिरे और ब्लास्ट हो गए। इस हमले में अब तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। हालांकि, एयरपोर्ट से आने-जाने वाली कई उड़ानों को निलंबित कर दिया गया है। अफगानिस्तान में हाल के हफ्तों में हिंसा बढ़ी है क्योंकि तालिबान ने नागरिकों, अफगान रक्षा और सुरक्षा बलों के खिलाफ अपने हमले तेज कर दिए हैं। यह युद्धग्रस्त देश से विदेशी सैनिकों की वापसी के मद्देनजर आया है।

अफगानिस्तान का दूसरा सबसे बड़ा शहर कंधार है। यहां के एयरपोर्ट का उपयोग अफगानिस्तान की सेना को हथियार और रसद भेजने में भी किया जाता है। इसलिए तालिबान इस एयरपोर्ट पर कब्जा कर अफगान सेना को मिलने वाली मदद को रोकना चाहता है। एयरपोर्ट के चीफ मसूद पश्तून ने न्यूज एजेंसी AFP को बताया कि रनवे को ठीक करने का काम किया जा रहा है। रविवार शाम तक काम पूरा होने की उम्मीद है।

पिछले महीने ईद की नमाज के दौरान राष्ट्रपति भवन के पास के इलाकों में तीन रॉकेट दागे गए थे। पिछले कुछ हफ्तों में, तालिबान ने देश के पूर्वोत्तर प्रांत तखर सहित अफगानिस्तान के कई डिस्ट्रिक्टि्स पर कब्जा कर लिया है। अफगान विदेश मंत्रालय के अनुसार तालिबान ने 193 से अधिक डिस्ट्रिक्ट सेंटरों और 19 बॉर्डर डिस्ट्रिक्ट्स पर कब्जा किया है। तालिबान ने तखर, कुंदुज़, बदख्शां, हेरात और फराह प्रांतों में 10 बॉर्डर क्रॉसिंग पॉइंट को भी अपने कब्जे में ले लिया है जिससे इन क्षेत्रों में सीमा पार से आवाजाही और व्यापार पूरी तरह से बंद हो गया है।

मंत्रालय ने बताया कि 14 अप्रैल से, लगभग 4,000 ANDSF कर्मी मारे गए हैं, 7,000 से अधिक घायल हुए हैं, और लगभग 1,600 को तालिबान ने पकड़ लिया है। हिंसा में महिलाओं और बच्चों सहित 2,000 से अधिक नागरिक मारे गए, जबकि 2,200 घायल हुए हैं।

खबरें और भी हैं...