चीन : चीन में इंडोनिशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो के चिन्ह

July 25th, 2022

हाईलाइट

  • मैत्रीपूर्ण संबंधों के विकास पर कायम

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। 25 जुलाई को इंडोनिशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो पांचवीं बार चीन की यात्रा करेंगे । वर्ष 2014 में पद संभालने के बाद जोको ने देश के बुनियादी संस्थापनों के सुधार पर बड़ा जोर लगाया और इंडोनिशिया की समुद्री स्तंभ रणनीति तथा चीन की बेल्ट एंड रोड पहल के जुड़ाव को बढ़ावा दिया । वे चीन के साथ मैत्रीपूर्ण संबंधों के विकास पर कायम रहते हैं । वे चार बार चीन की यात्रा कर चुके हैं । अब हम उनकी पहले की यात्राओं को याद करेंगे ।

नवंबर 2014 में राष्ट्रपति बनने के एक महीने से कम समय के बाद जोको ने पहली बार पेइचिंग आकर एपेक अनौपचारिक शिखर बैठक में भाग लिया और राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ वार्ता की । यह दोनों नेताओं की पहली मुलाकात है । इस यात्रा में जोको ने उत्तरी चीन के थ्येनचिन शहर की यात्रा भी की और थ्येनचिन बंदरगाह और कंटेनर बंदरगाह का दौरा किया।

मार्च 2015 में जोको ने फिर चीन की यात्रा की । उन्होंने राष्ट्रपति शी के साथ वार्ता की और वर्ष 2015 बोआओ एशिया मंच के वार्षिक सम्मेलन में भाग लिया । इस यात्रा ने चीन और इंडोनिशिया के बीच सहयोग व समान जीत का नया अध्याय जोड़ा । 6 महीने के बाद बेल्ट एंड रोड निर्माण सहयोग की प्रतीकात्मक परियोजना-इंडोनिशिया की पहली हाई स्पीड रेलवे परियोजना पर हस्ताक्षर किये गये।

नवंबर 2016 में जोको ने चीन के हांगचो में आयोजित जी 20 शिखर बैठक में भाग लिया । राष्ट्रपति शी के साथ वार्ता करने के अलावा उन्होंने हांगचो स्थित अलीबाबा ई बिजनेस पार्क का दौरा किया।

मई 2017 में पहला बेल्ट एंड रोड अंतरराष्ट्रीय सहयोग शिखर सम्मेलन पेइचिंग में आयोजित हुआ । राष्ट्रपति जोको विडोडो ने इस में भाग लिया । राष्ट्रपति शी के साथ हुई बातचीत में जोको ने बेल्ट एंड रोड पहल का उच्च मूल्यांकन किया ।

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.