दैनिक भास्कर हिंदी: सोमालिया: मोगादिशू में ट्रक बम धमाका, 90 लोगों की मौत, करीब 130 घायल

December 29th, 2019

हाईलाइट

  • वक्त पर ब्लड सप्लाई न होने के कारण कई घायलों की मौत
  • अलकायदा से जुड़े आतंकवादी समूह 'शबाब' पर हमले का संदेह

डिजिटल डेस्क, मोगादिशू। सोमालिया की राजधानी मोगादिशू में शनिवार को एक ट्रक बम धमाके में 90 लोगों ने अपनी जान गंवा दी। मरने वाले लोगों में बेनादिर यूनिवर्सिटी के 17 छात्र भी हैं, जो एक मिनी बस में सवार थे, जबकि करीब अन्य 130 बुरी तरह से जख्मी हो गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक यह धमाका शनिवार को मोगादिशू को अफगोये से जोड़ने वाले एक व्यस्त चौराहे पर हुआ।

धमाके के बाद बचाव अभियान में जख्मी लोगों को इलाज के लिए समीप के मदीना हॉस्पिटल ले जाया गया। हॉस्पिटल की डॉ नसरा अली ने बताया कि हॉस्पिटल में वक्त पर ब्लड सप्लाई न होने के कारण कई घायलों की मौत हो गई। हालांकि एर्दोगन हॉस्पिटल के डॉ. याहये इस्माइल ने लोगों से रक्त दान की अपील की है।

अब तक इस हमले की जिम्मेदारी किसी भी आतंकवादी संगठन द्वारा नहीं ली गई है, लेकिन इसके पीछे अलकायदा से जुड़े एक आतंकवादी समूह 'शबाब' का हाथ माना जा रहा है, जो देश के बड़े हिस्से को नियंत्रित करता है और लोकल टैक्सेशन और जबरन वसूली से पैसे जुटाता है। बता दें कि शबाब द्वारा पहले भी सोमालिया में आतंकी हमले कराए जा चुके हैं।

मोगादिशू में तुर्की के दूतावास ने कहा कि 'वहां सड़क पर काम कर रहे उसके दो इंजीनियर भी इस हमले में मारे गए। ये इंजीनियर ईएन-ईजेड कंस्ट्रक्शन कंपनी से थे।' इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग के अबशीर मोहम्मद अमीना ने बताया कि 'सबसे पहले हमारी एंबुलेंस पहुंची। हमने वहां बिखरे हुए शव और घायलों को देखा।'

हमला स्थानीय समय अनुसार सुबह 8 बजे (5 बजे जीएमटी) हुआ जब कथित आत्मघाती हमलावर ने पुलिस गश्ती कारों से घिरी सुरक्षा चौकी, छात्रों और ठेली वालों के बीच अपने वाहन को उड़ा दिया। सोमालिया के राष्ट्रपति मोहम्मद अब्दुलाही फरमाजो ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि 'अपने प्रिय परिजनों और दोस्तों को खोने वालों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं।' उन्होंने कहा कि 'यह स्पष्ट है कि आतंकवादी देश में एक भी आदमी को जिंदा नहीं छोड़ेंगे। वे हमारे दुश्मन हैं और हमें उन्हें खत्म करने पर फोकस करना होगा।'

खबरें और भी हैं...