comScore

सीरिया: अमेरिकी लड़ाकू विमानों ने बरसाए बम, 50 से अधिक लड़ाकों की मौत

June 19th, 2018 00:56 IST
सीरिया: अमेरिकी लड़ाकू विमानों ने बरसाए बम, 50 से अधिक लड़ाकों की मौत

हाईलाइट

  • अमेरिकी नेतृत्व वाली गठबंधन सेना के लड़ाकू विमानों ने रविवार की रात सीरिया इराक सीमा के पास पूर्वी हिस्से में जमकर बम बरसाए।
  • इस अटैक में सरकारी सेना से संबद्ध करीब 52 विदेशी लड़ाकों की मौत हो गई।
  • हमला सीरियाई सेना से संबद्ध सैन्य ठिकानों पर किए गए घातक हमलों में से एक था।

डिजिटल डेस्क, अल-हरी। अमेरिकी नेतृत्व वाली गठबंधन सेना के लड़ाकू विमानों ने रविवार की रात सीरिया इराक सीमा के पास पूर्वी हिस्से में जमकर बम बरसाए। इस अटैक में सरकारी सेना से संबद्ध करीब 52 विदेशी लड़ाकों की मौत हो गई। ब्रिटेन के मानवाधिकार संगठन ‘सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स’ ने यह जानकारी दी है। संगठन ने बताया कि यह हमला सीरियाई सेना से संबद्ध सैन्य ठिकानों पर किए गए घातक हमलों में से एक था। 


मृतकों का सही आकड़ा भी जारी नहीं

‘सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स’ के प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने बताया कि अल-हरी में हुए हमले में शासन के वफादार 52 गैर सीरियाई विदेशी लड़ाकों की मौत हुई। सैन्य सूत्रों के हवाले से बताया गया कि सैन्य ठिकानों पर अमेरिकी लड़ाकू विमानों ने हमले किए। हालांकि मृतकों और घायलों का सटीक आंकड़ा नहीं जारी किया गया है। बता दें कि IS के दबदबे वाले सीरिया के पूर्वी डेर एजोर प्रांत में अमेरिकी नेतृत्व वाली गठबंधन सेना और रूस समर्थित सरकारी बलों द्वारा आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चलाए जा रहे हैं।


अल-हरी क्षेत्र भी यहीं है, हालांकि पेंटागन ने हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है। इस क्षेत्र में इराकी, ईरानी, लेबनानी और अफगान लड़ाके भी तैनात हैं। अब्दुल रहमान के मुताबिक, कुछ घायल लड़ाकों का इलाज पास के प्रांत अल्बु कमल में किया जा रहा है, जबकि अन्य इराक चले गए।  वहीं दशीषा से आईएस को खदेड़ दिया गया है। यह गांव सीरिया को इराक से जोड़ने वाले एक गलियारे पर आईएस के नियंत्रणवाला आखिरी क्षेत्र था।

कमेंट करें
NsRIH