दैनिक भास्कर हिंदी: STF के सामने आतंकी की पत्नी ने खुद को बम से उड़ाया, दो बच्चों समेत 6 लोगों की मौत

April 26th, 2019

हाईलाइट

  • श्रीलंका में हुए सीरियल बम ब्लास्ट की जांच के दौरान एक चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है।
  • हमलावरों में देश के करोड़पति व्यापारी के दो बेटे शामिल थे।
  • STF की छापेमारी के दौरान आतंकी की पत्नी ने खुद को बम से उड़ा लिया।

डिजिटल डेस्क, कोलंबो। श्रीलंका में रविवार को ईस्टर के मौके पर हुए सीरियल बम ब्लास्ट की जांच के दौरान एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हमलावरों में देश के करोड़पति व्यापारी मोहम्मद यूसुफ इब्राहिम के दो बेटे इलहाम इब्राहिम और इंसाफ इब्राहिम भी शामिल थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक स्पेशल टास्क फोर्स ने इनके घर छापा मारा तो इलहाम इब्राहिम की पत्नी फातिमा ने खुद को बम से उड़ा लिया। जिसमें फातिमा के साथ उसके दो बच्चे और तीन कमांडो भी मारे गए।

पुलिस के अनुसार मोहम्मद यूसुफ इब्राहिम एक करोड़पति मसाला कारोबारी और व्यापारी थे। उनके घर में पैसे की कोई कमी नहीं थी। इसके बावजूद दोनों भाइयों ने आतंक का रास्ता चुना और खुद को कोलंबो में शांगरी-ला और सिनामॉन ग्रांड होटल में बम से उड़ा लिया था। पुलिस जांच में पता चला है कि यह परिवार अकेले ही अपना एक आतंकी सेल चला रहा था। बताया जा रहा है कि दोनों भाई की उम्र 25 से 30 वर्ष के बीच थी। यह दोनों स्थानीय इस्लामिक संगठन नेशनल तौहीद-ए-जमात से भी जुड़े हुए थे।

पुलिस ने बताया कि एक भाई ने होटल में एंट्री के दौरान गलत पहचान बताई थी,जबकि दूसरे भाई ने अपना सही पता और पहचान दर्ज कराई थी,  इसकी वजह से ही पुलिस कोलंबो स्थित उनके घर पहुंच सकी। पुलिस ने बताया कि जैसे ही स्पेशल टास्क फोर्स के कमांडो ने अंदर घुसने की कोशिश की, इल्हाम की पत्नी फातिमा ने खुद को बच्चों समेत बम से उड़ा लिया। इसमें उसके दो बच्चे और तीन कमांडो की जान चली गई। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि इल्हाम और इंसाफ ने अपने करीबी परिजन को बता दिया था कि वह क्या करने जा रहे हैं। वह विदेशी आतंकी समूह से प्रेरित थे, लेकिन इस बारे में अभी कुछ स्पष्ट नहीं है।

बता दें कि श्रीलंका में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 350 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी, जबकि 500 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ ईराक एंड सीरिया (ISIS) ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। श्रीलंका के रक्षा राज्य मंत्री रूवन विजयवर्धन ने कहा था कि फिदायीन विस्फोट करने वाले अधिकतर आतंकी अच्छे परिवारों से ताल्लुक रखते थे और ज्यादातर लोगों ने अच्छी शिक्षा ली थी। विजयवर्धन ने कहा था कि सभी आतंकी मिडिल क्लास से या हाई मिडिल क्लास परिवारों से थे।