दैनिक भास्कर हिंदी: पाक को अमेरिका की फटकार, कहा- आतंक के खिलाफ लगातार कदम उठाए

September 28th, 2019

हाईलाइट

  • संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने हाफिज सईद को उसके बैंक खाते से खर्चे के लिए रकम निकालने की अनुमति दी है
  • अमेरिका ने पाकिस्तान को अपनी जमीन पर पल रहे आतंकवाद के खिलाफ लगातार कदम उठाते रहने को कहा है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अमेरिका ने एक बार फिर आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान को जमकर फटकार लगाई है। दरअसल संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने जमात-उद दावा के प्रमुख और 2008 के मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को उसके बैंक खाते से खर्चे के लिए रकम निकालने की अनुमति दी है। जिसके बाद अमेरिका ने पाकिस्तान को अपनी जमीन पर पल रहे आतंकवाद के खिलाफ लगातार कदम उठाते रहने को कहा है। 

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा है, हम सभी सदस्य देशों को संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों के तहत अपने दायित्वों का पूरी तरह से पालन करने और उन्हें लागू करने के लिए प्रोत्साहित करना जारी रखते हैं। हाफिज सईद को सिर्फ मूलभूत खर्च के लिए ही बैंक खाता इस्तेमाल करने की छूट दी गई है।

आतंकियों को पनाह देने वाले पाकिस्तान को अमेरिका ने कहा है कि, वह मसूद अजहर और हाफिज सईद जैसे आतंकियों पर कड़ी कार्रवाई करे। अमेरिका ने पाकिस्तान को हाफिज सईद और मसूद अजहर जैसे आतंकवादियों पर मुकदमा चलाने के लिए कहा है। साथ ही कहा कि, भारत-पाकिस्तान तनाव में कमी सीमा पार घुसपैठ में शामिल रहने वालों के खिलाफ कार्रवाई में इस्लामाबाद की गंभीरता पर निर्भर करता है। 

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा, हम सदस्य देशों को आतंकियों को गिरफ्तार करने और उन पर मुकदमा चलाने और उचित कार्रवाई करने के लिए भी प्रोत्साहित करते हैं। हम UN 1267 के तहत अपने दायित्व के अनुरूप संयुक्त राष्ट्र-नामित आतंकवादी समूहों पर लगाम लगाने के लिए पाकिस्तान सरकार के प्रारंभिक कदमों का स्वागत करते हैं।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा, अपने अंतर्राष्ट्रीय दायित्वों के अनुरूप पाकिस्तान को भविष्य में हमलों को रोकने और क्षेत्रीय स्थिरता को बढ़ावा देने के लिए आतंकवादी समूहों के खिलाफ निरंतर और सत्यापित कार्रवाई जारी रखनी चाहिए।

गौरतलब है कि, पाकिस्तान की अपील के बाद यूएनएससी ने हाफिज सईद को उसके बैंक खाते का संचालन करने की अनुमति दी है। इससे पहले हाफिज सईद के बैंक खातों पर प्रतिबंध लगाए गए थे। इस संबंध में पाकिस्तान ने एक याचिका दायर की थी, जिसके बाद बैंक खाते तक हाफिज की पहुंच सुनिश्चित हो गई है।

 

खबरें और भी हैं...