रूस -यूक्रेन तनाव :  यूक्रेनी स्पेशल ऑपरेशंस फोर्स ने खाई कसम, रूसी सैनिकों को अंत तक मारा जाएगा, रूस ने नागरिक ठिकानों पर किए अंधाधुध हमले

March 2nd, 2022

हाईलाइट

  • स्टेट ऑफ द यूनियन में संबोधन

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। रूसी सैनिकों द्वारा नागरिक ठिकानों पर अंधाधुध हमले के बाद यूक्रेनी स्पेशल ऑपरेशंस फोर्स ने रूसी तोपखाने सैनिकों की पहचान कर और उनकी हत्या करने की कसम खाई है। यूक्रेनी सैनिकों ने कहा कि बंदूकधारी को सूअरों की तरह मारा जाएगा।

यूक्रेनी पत्रकार इलिया पोनोमारेंको ट्वीट कर दावा किया है कि यूक्रेनी सेना ने कीव से लगभग 50 किमी पश्चिम में मकारिव शहर को अपने कब्जे में वापस ले लिया है। यूक्रेनी सेना ने अपना पैर मकारिव शहर पर जमा लिया है। पत्रकार इलिया आगे लिखते हैं कि मैं वास्तव में उस जगह से प्यार करता हूँ, यहां पर आदर्श बाइकिंग मार्ग भी हैं।

यूक्रेन और रूस युद्ध के बीच इलिया पोनोमारेंको नाम के यूक्रेनी पत्रकार ने भावुक ट्वीट किया है। पत्रकार ने लिखा कीव अब खामोश है, वहां जीवन की कोई आवाज नहीं है, मानों निर्वात में हो। गलियां सूनी पड़ी  हैं, केवल सन्नाटा पसरा हुआ है। यह बहुत असहज लग रहा है।

यूक्रेन और रूस के बीच सातवें दिन भी युद्ध जारी है। इसी बीच रूस ने बड़ा दावा किया है कि यूक्रेन के सुरक्षा बलों ने भारतीय छात्रों को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल करने के लिए बंधक बना लिया है। ताकि उन्हें जाने से रोका जा सके। खबरों के मुताबिक, खारकीव मेट्रो स्टेशन में 300 से ज्यादा भारतीय कर्फ्यू के कारण फंसे हुए हैं। 

यूक्रेन व रूस के बीच जारी जंग का सातवां दिन है। अब रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के सबसे बड़े शहर बमबारी तेज कर दी है। इस बमबारी के दौरान कई नागरिकों के मौत की भी खबरें आ रही हैं। ये भी खबरें आ रही हैं कि यूक्रेन की राजधानी कीव को रूसी सैनिकों ने चारों तरफ से घेर लिया है। आज रात रूस कीव पर बड़ा हमला कर सकता है।

रूस और यूक्रेन के बीच जारी जंग के बीच सेंटर फॉर इंफॉर्मेशन सिक्योरिटी ने दावा किया है कि रूस जल्द ही यूक्रेनी राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की के खिलाफ आत्मसमर्पण को लेकर फर्जी वीडियो जारी कर सकता है। जिसमें ये दिखाया जाएगा कि राष्ट्रपति जेलेंस्की आत्मसमर्पण करने कर रहे हैं। इस पर यूक्रेनी नागरिकों को विश्वास न करने की चेतावनी दी गई है।

यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध जारी है। इसी बीच यूएनजीए में रूस को खिलाफ प्रस्ताव लाया गया। भारत एक बार फिर अपने दोस्त रूस के साथ खड़ा दिखा और वोटिंग से दूरी बना ली। रूस के खिलाफ प्रस्ताव में 35 देश वोटिंग से दूर रहे जबकि पक्ष में पड़े 141 वोट हैं।

यूक्रेन और रूस के बीच सातवें दिन जंग रही है। इसी बीच रूस के रक्षा मंत्रालय ने दावा किया है कि यूक्रेन में उसके 498 सैनिक मारे गए है तथा सैन्य हताहतों की पहली रिपोर्ट में 1,597 घायल हुए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस राष्ट्रपति से टेलीफोन पर बात की। दोनों नेताओं ने यूक्रेन की स्थिति की समीक्षा की, विशेष रूप से खारकीव में जहां कई भारतीय छात्र फंसे हुए हैं। उन्होंने संघर्ष क्षेत्रों से भारतीय नागरिकों की सुरक्षित निकासी पर चर्चा की।

यूक्रेन और रूस के बीच जंग जारी है। इसी बीच कई दिल दहलाने वाली तस्वीरें आ रही हैं। रूसी सैनिकों के बमबारी में कई बिल्डिंगें तबाह हो गई हैं। कीव में लगातार सायरन बज रहे हैं, आज रात रूस हवाई हमला कर सकता है।

यूक्रेन और रूस के बीच जारी युद्ध में खबरें आ रही कि रूस आज रात कीव पर बड़ा हमला बोल सकता है। रूसी सैनिक कीव में सरकारी बिल्डिंग को निशाना बना सकती है। कीव में लगातार सायरन बजाकर वहां के नागरिकों को चेतावनी दी जा रही है कि वे घर से बाहर न निकलें। 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का दावा है कि यूक्रेन पर रूसी आक्रमण के बाद 850,144 लोग देश को छोड़कर चले गए हैं।

 रूसी सैनिकों ने खारकीव के दक्षिण पश्चिम बालाकलिया शहर में प्रवेश किया। टाउन हॉल से सड़क के पार लिया गया वीडियो, रूसी सेना खारकीव पर कब्जा जमाने की कोशिश में।

खारकीव खाली करने की एडवाइजरी के बाद खारकीव पर रूसी सेना ने किया बड़ा मिसाइल हमला।

 

 

रूस के मिसाइल हमले में यूक्रेन के एक स्कूल को बड़ा नुकसान

 

युद्ध के बीच भारत को मिली एक और बुरी खबर। कर्नाटक के नवीन के बाद एक और छात्र की यूक्रेन में मौत। हालांकि ये छात्र युद्ध के हमले में नहीं मारा गया। पुरानी बीमारी के चलते अस्पताल में छात्र की मौत हुई है।

पुतिन यानुकोविच को दोबारा राष्ट्रपति बनाने की अटकलों के बीच रूसी विदेश मंत्री ने बड़ा दावा किया है। विदेश मंत्री का दावा है कि रूस की सेनाओं ने यूक्रेन के बड़े शहर खेरसन पर कब्जा कर लिया है। इसके अलावा रूसी विदेश मंत्री ने ये आगाह भी किया कि तीसरा विश्व युद्ध छिड़ा तो वो बेहद विनाशकारी भी होगा और उसमें परमाणु बमों का उपयोग भी होगा।

कीव के बाद अब भारतीय छात्रों को खारकीव छोड़ने की भी एडवाइजरी जारी।

 यूक्रेनस्का प्रावडा सूत्रों के अनुसार रूसी राष्ट्रपति पुतिन यानुकोविच को यूक्रेन के राष्ट्रपति के रूप में बहाल करना चाहते हैं। आपको बता दें विक्टर यानुकोविच कथित तौर पर मिन्स्क में है, और क्रेमलिन ज़ेलेंस्की को बदलने के लिए एक ऑपरेशन की तैयारी कर रहा है, जो कि 2014 में यूरोमैदान क्रांति द्वारा अपदस्थ पूर्व राष्ट्रपति हैं।

 

 

रकीव, खारसेन और ओडीसा के साथ यूक्रेन के कई शहरों में मौजूद पुलिस मुख्यालयों को रूसी सेना ने किया ध्वस्त

 

 

 कुपियांस्क, यूक्रेन के निवासी रूसी सैनिकों के खिलाफ हो जाते हैं जो शहर पर नियंत्रण करने की कोशिश कर रहे हैं

 

मिकोलेव शहर में हेलिकॉप्टर से उतरे रूस के कंमाडर, बड़ी  झड़प होने का लगाया जा रहा है  अंदेशा 

 खार्किव में सुबह का अलार्म- रूसी गोलाबारी से मारा गया एक बारूद डिपो

यूक्रेनी अधिकारी के  मुताबिक ,कम से कम 21 मारे गए, 112 खार्किव की गोलाबारी में घायल 

 

कीव के बाहर यूक्रेन ने रूस की सेना को ध्वस्त किया है। खबरों के मुताबिक कीव के बाहर तैनात रूसी सेना पर यूक्रेन ने हमला किया है।  यूक्रेन की सेना ने रूसी सेना के टैंक उडाए। यूक्रेन की राजधानी कीव में रातभर सायरन बजता रहा, भूखे यूक्रेनी लोग रातभर चीखते चिल्लाते रहे।  शहर सायरन के साए में जीता रहा। रूस ने कीव शहर में हमले किए तेज। फिर दहल उठा कीव

रूसी सेना पर यूक्रेन ने हमले किए, जंग पर जेंलिस्की ने एक बयान जारी किया है, यूक्रेन ने कहा कि बातचीत से पहले रूस हमले को बंद करे। आपको बता दें बेलारूस में हुई बातचीत  किसी निर्णायक मोड़ पर नहीं पहुंच सकी। आज दूसरे दौर की बातचीत होने का अनुमान है। 

24 घंटे में यूक्रेन से 6 फ्लाइट भारत आई  है। सूत्रों के मुताबिक 1377 भारतीय छात्र भारत लौट आए है। रोमानिया हंगरी पौलेंड से छात्र वापस आए है। विदेश मंत्रालय के मुताबिक अब कोई छात्र  यूद्ध स्थल कीव में कोई भी भारतीय छात्र नहीं है।

खारकीव में रातभर में हमलों के बीच अब जंग तेज हुई 

अमेरिकी चेतावनी के बाद पुतिन एक्शन मोड़ में नजर आ रहे है। खारकीव और कीव रात भर धमाकों में दहलता रहा। रूस यूक्रेन के सातवें दिन बारूदों की बारिश यूक्रेन के कई शहरों पर बरसी। रात भर  दोनों शहर  लपटों की आग में घिरे नजर आए। खेरसन शहर पर रूसी सेना ने कब्जा कर लिया है। 

 

अमेरिका ने करीब 35 करोड़ डॉलर के हथियार यूक्रेन को दिए, हालांकि बाइडेन ने यह भी स्पष्ट तौर पर कहा कि अमेरिका की सेना रूस यूक्रेन की लड़ाई में सीधे तौर पर शामिल नहीं होगी न ही अमेरिका अपनी सेना भेजेगा,लेकिन यूक्रेन की आर्थिक मदद करते रहेगे।

एप्पल ने अपने सभी प्रोडक्ट की बिक्री पर रूस में बैन लगा दिया है।

वहीं कनाडा और यूरोपीय संघ के बाद अमेरिका ने भी अपने हवाई जोन रूसी उड़ानों के लिए प्रतिबंधित कर दिए है। बाइडेन ने आगे कहा कि तानाशाह को हमेशा अपनी कीमत चुकानी पड़ी है। 

रूस यूक्रेन पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन का कैपिटल हिल में स्टेट ऑफ द यूनियन को संबोधित जारी है। हम यूक्रेन के साथ खड़े हैं, आगे बाइडेन ने कहा रूसी राष्ट्रपति को लगता है कि यूक्रेन कमजोर है तो यह उसकी गलत सोच है। 

बाइडेन ने कहा रूस ने यूक्रेन पर हमला कर गलत किया उसे इसका अंदाजा नहीं है कि, हम क्या करने वाले हैं।  यूएस ने रूस के लिए अपने हवाई मार्ग जोन को बंद कर दिया है। 

 

 

 

 

खबरें और भी हैं...