दैनिक भास्कर हिंदी: अमेरिका ने रोकी फिलिस्तीन को दी जाने वाली 14 अरब रुपए की मदद

August 25th, 2018

हाईलाइट

  • वित्तीय वर्ष 2017 में 200 मिलियन डॉलर खर्च करने की बनी थी योजना।
  • राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के निर्देश के बाद योजना में किया गया बदलाव।
  • फिलिस्तीन को दिए जाने वाले फंड की समीक्षा के बाद ट्रंप ने लिया निर्णय।

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। यूनाइटेड स्टेट अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वेस्ट बैंक और गाजा को आर्थिक मदद देने की योजना को बदल दिया है। यूएस ने यहां 200 मिलियन डॉलर (करीब 14 अरब रुपए) की मदद देने की योजना बनाई थी। स्टेट डिपार्टमेंट के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'हमने वित्तीय वर्ष 2017 में एक योजना तैयार की थी, जिसके तहत वेस्ट बैंक और गाजा में 200 मिलियन डॉलर खर्च किए जाने थे।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के निर्देश के बाद इसमें बदलाव किया गया है। अब इन पैसों को ऐसे प्रोजेक्ट पर लगाया जाएगा, जिन्हें जल्दी पूरा करने की ज्यादा जरूरत है। बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने वेस्ट बैंक और फिलिस्तीन को दिए जाने वाले फंड की समीक्षा के बाद ये निर्णय लिया है। ट्रंप ने अधिकारियों से कहा था, 'आश्वस्त कीजिए की टैक्स देने वाले अमेरिकी लोगों कै पैसे का सही उपयोग हो रहा है। अमेरिका के इस निर्णय का फिलिस्तान के लोग काफी विरोध कर रहे हैं।

फिलिस्तीन लिबरेशन ऑर्गेनाइजेशन (PLO) के कार्यकारी समिति सदस्य हनान अशरवी ने कहा, 'अमेरिकी प्रशासन फिलिस्तीन को ब्लैकमेल करने के लिए ऐसे राजनैतिक हथकंडे अपना रहा है, लेकिन फिलिस्तीन के राजनेता अमेरिका की इस करतूत से डरने वाले नहीं हैं। व्यापारिक और राजनैतिक हित के चलते लोगों पर दबाव डालना अच्छी बात नहीं है। अशरवी ने कहा कि कब्जाधारी देश इजराइल के साथ गठबंधन करके पहले ही अमेरिका ने मानवता को शर्मसार किया है। वहां संसाधनों का दुरुपयोग किया जा रहा है। अब अपने व्यापारिक लाभ के लिए अमेरिका ने फिलिस्तीनी को सताना भी शुरू कर दिया है।

 

 

खबरें और भी हैं...