दैनिक भास्कर हिंदी: Covid-19: चीनी विदेश मंत्री वांग बोले- WHO पर कीचड़ उछालने वाले खुद गंदे होंगे

May 25th, 2020

हाईलाइट

  • डब्ल्यूएचओ पर कीचड़ उछालने वाले खुद गंदे होंगे : वांग यी

डिजिटल डेस्क, बीजिंग। चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने कहा कि डब्ल्यूएचओ पर कीचड़ उछालने वाले खुद गंदे होंगे। डब्ल्यूएचओ का अंतर्राष्ट्रीय स्थान और ऐतिहासिक मूल्यांकन किसी एक देश की पसंद से नहीं बदलेगा। संयुक्त राष्ट्र संघ की विशेष संस्था होने के नाते डब्ल्यूएचओ ने वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य कार्य का समन्वय करने में अहम भूमिका अदा की है।

13वीं एनपीसी के तीसरे पूर्णाधिवेशन के मौके पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में वांग यी ने जोर दिया कि डब्ल्यूएचओ 194 देशों से गठित एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था है, किसी एक देश की सेवा नहीं करता है। यह भी नहीं हो सकता है कि किसी ने ज्यादा पैसे दिये, तो उसके हित में काम करेगा।

एक पत्रकार ने यह सवाल पूछा कि अमेरिका ने चीन पर आरोप लगाया कि चीन को पूरी दुनिया में महामारी का प्रकोप होने की जिम्मेदारी लेनी चाहिए, क्या चीन वायरस के स्रोत पर एक स्वतंत्र अंतर्राष्ट्रीय जांच करने के लिए सहमत है? वायरस के स्रोत की समस्या पर चीन और अमेरिका के बीच मतभेद तथ्य और झूठ, विज्ञान और पूर्वाग्रह के बीच मतभेद है। वायरस अनुरेखण अनुसंधान गंभीर और जटिल वैज्ञानिक मुद्दा है, वैज्ञानिक और चिकित्सा विशेषज्ञों को इस पर अनुसंधान करना चाहिए, न कुछ राजनीतिज्ञों को। चीन अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिक समुदाय का वायरस अनुरेखण अनुसंधान सहयोग करने के लिए स्वागत करता है, लेकिन यह अनुसंधान व्यावसायिकता, निष्पक्षता और रचनात्मकता के आधार पर करना चाहिए।

डब्ल्यूएचओ के सुधार की चर्चा में वांग यी ने जोर दिया कि हमें राजनीतिक तत्वों के हस्तेक्षप से बचना चाहिए और वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य संकट का निपटारा करने में डब्ल्यूएचओ की क्षमता को उन्नत करते हुए विकासमान देशों के सार्वजनिक स्वास्थ्य कार्य का समर्थन देना चाहिए।

चीन-अमेरिका संबंध की चर्चा में वांग यी ने कहा कि कोविड-19 चीन और अमेरिका का आम दुश्मन है, हम एक दूसरे का समर्थन करना और सहायता देना चीनी और अमेरिकी जनता की आम इच्छा भी है। अभी अमेरिका में महामारी की स्थिति विश्व में सबसे गंभीर है, हम अमेरिका के लोगों के लिए गहरी सहानुभूति है। हमें उम्मीद है कि अमेरिका जल्द ही महामारी को हराएगा, लोगों का जीवन जल्द ही फिर से सामान्य हो सकेगा।