दैनिक भास्कर हिंदी: छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों को चकमा देने के लिए नक्सली अपना रहे हैं ये हथकंडे

November 30th, 2018

हाईलाइट

  • नक्सलियों ने सुरक्षाबलों को चकमा देने के लिए अपनाए नए हाथकंडे
  • मानव आकर में बनाए कपड़ो के पुतले
  • IED ब्लास्ट करने की कोशिश नाकाम

डिजिटल डेस्क, रायपुर। छत्तीसगढ़ में नक्सली सुरक्षा बलों को चकमा देने के लिए नए-नए हथकंडे इस्तेमाल कर रहे है। पुलिस पर हमला करने की फिराक में नक्सली जंगलों में IED से ब्लास्ट करने के साथ ही पुतलो को इस्तेमाल भी करने लगे है। शुक्रवार को नक्सल प्रभावित सुकमा क्षेत्र में सर्चिंग के दौरान नक्सलियों की नई करतूत सामने आई। छत्तीसगढ़ में नक्सली लगातार पैंतरे बदल रहे हैं। सुकमा के चिंतागुफा व तेमेलवाड़ा के बीच सर्चिंग पर निकले सीआरपीएफ 150 वीं बटालियन के जवानों ने नक्सलियों द्वारा लगाए गए चार पुतलों को जब्त किया है। नक्सलियों ने इन पुतलों को पेड़ों से बांध रखा था, साथ ही इनके हाथों में लकड़ी की बंदूकें भी थीं। पुतलों की पोजीशन से लग रहा था जैसे नक्सली मोर्चा लेकर पेड़ के पीछे छिपे हुए हैं। जवानों ने अचानक उन्हें देखा और पहले तो मोर्चा लिया, फिर कुछ देर इनमें हलचल न होने पर आगे बढ़े। पास जाने पर पुतले नजर आए। काफी सतर्कता के बाद इन पुतलों को जब्त किया गया। 

 

 

नक्सलियों की इस नई रणनीति को लेकर सीआरपीएफ 150 वीं बटालियन के कमाडेंट डी सिंह ने कहा, कि नकस्ली जवानों को गुमराह करने और चकमा देने के लिए इस तरह के हाथकंडे अपना रहे है। नक्सलियों ने मानव आकर में कपड़ो के पुतले बनाकर उन्हें पेड़ से बांध दिया है। ताकि जवानों को भ्रमित किया जा सके। हमनें सभी पुतलों को हटाते हुए एक आईईडी को ध्वस्त किया है।