comScore

अवंतीपोरा में भारतीय सेना ने जैश के 3 आतंकी किए ढेर, नौशेरा में एक जेसीओ शहीद

October 23rd, 2019 08:18 IST

हाईलाइट

  • भारतीय सेना ने आतंकियों के पास से गोला-बारूद बरामद किया
  • एलओसी से 500 मीटर दूर नौशेरा में भारतीय जूनियर ऑफिसर शहीद
  • बीते बुधवार को इलाके में भारतीय सेना ने 3 आतंकियों को मार गिराया था

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अवंतीपोरा इलाके में मंगलवार को भारतीय सेना को बड़ी कामयाबी मिली। सेना ने मुठभेड़ में जैश के तीन आतंकियों को मार ​गिराया है। जानकारी अनुसार मंगलवार सुबह सुरक्षाबलों को पुलवामा के राजपुरा में दो आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी। इसके बाद जवानों ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया। इस दौरान भारतीय सुरक्षाबल को घेराबंदी करते हुए देख आतंकियों ने पर फायरिंग शुरू कर दी। इस पर सेना ने जवाबी कार्रवाई की। इसमें कार्रवाई में तीनों आतंकी मारे गए। पुलिस ने बताया कि आतंकियों के पास से गोला-बारूद बरामद किया गया।

वहीं दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में मंगलवार सुबह आतंकियों ने लाइन ऑफ कंट्रोल एलओसी से करीब 500 मीटर दूर स्थित एक पोस्ट को निशाना बनाया। इसके जवाब में भारतीय सेना ने भी फायरिंग की। इस दौरान बुरी तरह जख्मी हुए भारतीय सुरक्षाबल के जूनियर कमिशंड ऑफिसर (जेसीओ) शहीद हो गए। फायरिंग के बाद क्षेत्र में आम लोगों की आवाजाही को रोक दिया गया है।

पाकिस्तानी गोलीबारी में भारतीय महिला घायल
वहीं बालाकोट सेक्टर के मेंढर में भी पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। इसमें पाक की ओर से की गई फायरिंग में एक 60 साल की महिला घायल हो गई। घायल महिला को इलाज के लिए राजौरी के एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टर के अनुसार महिला के पेट में बाईं ओर गोली लगी है।

इससे पहले अनंतनाग जिले में बीते बुधवार को सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में 3 आतंकवादी मारे गए थे। सुरक्षाबलों को बिजबेहरा क्षेत्र के पजलपोरा गांव में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने इलाके में घेराबंदी की थी। आतंकियों से मुठभेड़ में पुलिस अधिकारी ने कहा कि सुरक्षाबलों ने छिपे हुए आतंकवादियों को पकड़ने के लिए जैसे ही घेराबंदी की, तो उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी। घेराव और तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। इस मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए और उनके शव बरामद कर लिए गए।

एक अन्य घटनाक्रम में शोपियां जिले के ट्रांज गांव में पंजाब के एक व्यापारी और उसके ट्रक चालक को आतंकवादियों ने गोली मार दी थी। इस हमले में व्यापारी की मौत हो गई, जबकि चालक घायल हो गया। इससे पहले पुलवामा जिले के निहमा गांव में आतंकवादियों की ओर से छत्तीसगढ़ के एक ईंट-भट्ठा में काम करने वाले एस ए सागर नाम के व्यक्ति की हत्या कर दी गई थी। इन हत्याओं के बाद शोपियां में काम करने वाले गैर-कश्मीरी व्यापारियों और मजदूरों में डर का माहौल बना हुआ है।

कमेंट करें
0uxK7