comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Coronavirus New Strain: देश में कोरोना के नए स्ट्रेन से 4 और लोग हुए संक्रमित, अब तक 29 में संक्रमण की पुष्टि

January 01st, 2021 19:02 IST
Coronavirus New Strain: देश में कोरोना के नए स्ट्रेन से 4 और लोग हुए संक्रमित, अब तक 29 में संक्रमण की पुष्टि

हाईलाइट

  • अब तक देश में कोरोना के नए स्ट्रेन से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या 29 हुई
  • अभी तक 107 सैंपल की रिपोर्ट आई, इनमें 29 ब्रिटेन के नए स्ट्रेन से संक्रमित मिले

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार शुक्रवार को 4 और नए संक्रमण के मामले सामने आए हैं। ऐसे में अब तक देश में कोरोना के नए स्ट्रेन से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या 29 हो गई है। बता दें कि मंगलवार तक देश में यह संख्या सिर्फ 6 थी। जानकारी अनुसार अभी तक कुल 107 सैंपल की रिपोर्ट आई है, जिनमें 29 ब्रिटेन के नए स्ट्रेन से संक्रमित मिले हैं। 29 में से सबसे ज्यादा 8 पॉजिटिव मामले दिल्ली की लैब में पाए गए हैं।

इन 29 मामलों में से, आठ को दिल्ली में राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र में दर्ज किया गया है, दो दिल्ली के सीएसआईआर इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी में, 10 मामले नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो-साइंसेज बैंगलोर में दर्ज किया गया है। हैदराबाद के सेलुलर और मोलकुलर बॉयोलॉजी में तीन मामले, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो-साइंसेज में पांच और पश्चिम बंगाल के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स में एक मामला दर्ज किया गया है। मंगलवार को ब्रिटेन से लौटे कुल 6 लोगों को कोरोना के नए प्रकार से पॉजिटिव पाया गया है। कोरोनावायरस के नए प्रकार को भारत में पाए जाने का पहला मामला दर्ज हुआ था, जहां अमेरिका के बाद सबसे अधिक मामले पाए गए हैं।

इन देशों में सामने आए कोरोना के नए स्ट्रेन संक्रमण के मामले
कोरोनावायरस के नए प्रकार को विशेष रूप से डेनमार्क, नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया, इटली, स्वीडन, फ्रांस, स्पेन, स्विट्जरलैंड, जर्मनी, कनाडा, जापान, लेबनान और सिंगापुर में पाया गया है। 25 नवंबर से 23 दिसंबर की मध्यरात्रि तक लगभग 33,000 यात्री अमेरिका के विभिन्न भारतीय हवाई अड्डों पर पहुंचे। इन सभी यात्रियों को राज्यों और संघ राज्य क्षेत्रों द्वारा आरटी-पीसीआर जांच कराया जा रहा है।

कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिलने के बाद वैज्ञानिकों और दुनिया के लोगों में खौफ का माहौल है। ब्रिटेन समेत कई देशों ने भी अपने यहां सख्ती को बढ़ा दिया है। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इसके मद्देनजर ब्रिटेन में अब तक का सबसे सख्त लॉकडाउन लागू किया गया है। गुरुवार (31 दिसंबर) से इंग्लैंड की आबादी के तीन-चौथाई हिस्सों में शीर्ष स्तर का लॉकडाउन लागू कर दिया गया है।

चीन में भी कोरोना के नए स्ट्रेन का पहला मामला
चीन में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन का पहला मामला सामने आया है। यह जानकारी एजेंसी रायटर्स के हवाले से दी गई है। बता दें कि कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन ब्रिटेन में सबसे पहले सामने आया था, उसके बाद यह स्ट्रेन दुनिया के अन्य देशों में फैल रहा है।

सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि सीडीएससीओ की विशेषज्ञ समिति ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 रोधी टीके 'कोविशील्ड' के भारत में आपात इस्तेमाल की मंजूरी देने की तैयारी में है। दरअसल, सीडीएससीओ की विशेषज्ञ समिति ने कोविशील्ड को मंजूरी देने का अनुमोदन किया है अब डीजीसीआई इस अनुमोदन पर विचार कर इस अंतिम रूप से मंजूरी देने पर काम करेगा। यदि ऐसा होता है तो यह देश में आपात इस्तेमाल की मंजूरी पाने वाली पहली वैक्सीन बन जाएगी। बता दें कि केंद्र सरकार टीकाकरण के पूर्वाभ्यास के लिए पहले से ही तैयारी कर रही है। 

कोरोना वैक्सीन को मिल सकती है मंजूरी
कोरोना वैक्सीन को लेकर आज विशेषज्ञ समिति की बैठक हो रही है। इसमें ऑक्सफोर्ड एस्ट्रेजेनेका की कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड को आपातकालीन मंजूरी देने पर विचार किया जाएगा। हाल ही में ब्रिटेन ने इस वैक्सीन को मंजूरी दी है। समिति की दो बैठकें हो चुकी हैं। इन बैठकों में वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों से कुछ और जानकारियां मांगी गई थी। बता दें कि भारत ने टीकाकरण का पूरा एक्शन प्लान तैयार कर लिया है।

कमेंट करें
Mgvzs