दैनिक भास्कर हिंदी: पहली रैली के बाद प्रियंका गांधी का पहला ट्वीट, बापू के कथन को किया साझा

March 13th, 2019

हाईलाइट

  • ट्विटर पर एक्टिव हुईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी
  • अपने पहले ट्वीट में साबरमती को याद किया।
  • हिंसा को लेकर महात्मा गांधी के एक कथन को ट्वीट किया।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चुनावी रैली में पहली बार हिस्सा लेने के बाद प्रियंका गांधी अब ट्विटर पर भी एक्टिव हो गई हैं। गुजरात में एक रैली को संबोधित करने के बाद प्रियंका गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट से पहली बार ट्वीट किया है। उन्होंने साबरमती आश्रम के बारे में लिखा और महात्मा गांधी के एक कथन को भी साझा किया है।  
 

पहली रैली के बाद पहला ट्वीट 
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने अहमदाबाद में पहली बार रैली को संबोधित करने के बाद मंगलवार देर रात पहली बार ट्वीट किया। उन्होंने दो ट्वीट किए हैं। एक ट्वीट में उन्होंने अहमदाबाद स्थित महात्मा गांधी के साबरमती आश्रम के बारे में लिखा है। पहले ट्वीट में लिखा, साबरमती की साधारण गरिमा में सत्य सदा जीवित रहेगा।
 

 

दूसरे ट्वीट में महात्मा गांधी का एक कथन साझा किया है, जिसमें कहा गया है कि, “मैं हिंसा का विरोध करता हूं क्योंकि जब लगता है कि इसमें कोई भलाई है, तो ऐसी भलाई अस्थायी होती है। लेकिन इससे जो हानि होती है वह स्थायी होती है।
 

 

आपको बता दें कि, प्रियंका गांधी ने इसी साल फरवरी में ट्विटर ज्वॉइन किया था, एक महीने बाद उन्होंने ट्वीट किया है। प्रियंका गांधी 25 जनवरी को कांग्रेस की महासचिव बनीं और कुछ दिन बाद 11 फरवरी को उन्होंने ट्विटर पर कदम रखा। प्रियंका गांधी को ट्विटर पर करीब 2 लाख 33 हजार लोग फॉलो कर रहे हैं। वहीं प्रियंका गांधी ने अब तक सात लोगों को फॉलो किया है। प्रियंका जिन लोगों को फॉलो कर रही हैं, उनमें यूपी का कोई भी नेता शामिल नहीं है। प्रियंका गांधी ने अब तक कांग्रेस के किसी कार्यकर्ता को भी फॉलो नहीं किया है। प्रियंका जिन सात लोगों को फॉलो कर रही हैं, वह सभी कांग्रेस के नेता है।
 

रैली में मोदी सरकार पर साधा निशाना
गौरतलब है कि कांग्रेस महासचिव बनने के बाद प्रियंका गांधी ने पहली बार मंगलवार को ही भाषण दिया। गुजरात के गांधीनगर में कांग्रेस कार्य समिति की बैठक के बाद एक रैली में प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। रैली को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, देश में चारों तरफ नफरत फैलाई जा रही है जिसका सभी को मिलकर मुकाबला करना है। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि असल मुद्दों से ध्यान भटकाने की लगातार कोशिश की जाएगी, लेकिन वे रोजगार, किसानों और महिला सुरक्षा के मुद्दों को लेकर सवाल पूछते रहें।

'जागरुकता से बड़ी कोई देशभक्ति नहीं'
प्रियंका ने कहा, मोदी सरकार ने देश के युवाओं को दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन आज रोजगार कहां है? ये सरकार पहले महिलाओं की बात करती थी, लेकिन अब उन्हें ही नहीं पूछती। करीब 10 मिनट के अपने भाषण में प्रियंका गांधी ने जनता से कहा कि जागरुकता से बड़ी कोई देशभक्ति नहीं होती।

खबरें और भी हैं...