दैनिक भास्कर हिंदी: ममता के बाद अब सुब्रमण्यण स्वामी भी आधार लिंकिंग के विरोध में

October 31st, 2017

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। आधार लिंकिंग को लेकर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी कड़ा विरोध जता चुकी हैं। इसके लिए उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर भी की थी, लेकिन SC ने एक सीएम होने के नाते उन्हें केंद्र के खिलाफ जाने के लिए फटकार लगा दी। इस पर सियासत और भी तेज हो गई है। आधार लिंकिंग को अनिवार्य बनाने के फैसले पर केंद्र के खिलाफ अब बीजेपी सांसद सुब्रमण्यण स्वामी भी विरोध में उतर आए हैं। 

आपको बता दें मोदी सरकार आधार को अनिवार्य करके इसे राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए जरूरी बता रही है और मोबाइल फोन, बैंकिंग, एलपीजी समेत तमाम सुविधाओं से इसे लिंक करने पर जोर दे रही है, लेकिन अब खुद सत्ताधारी पार्टी के सांसद स्वामी ने ट्वीट कर इसका विरोध किया है। 

 

 

स्वामी ने ट्वीट कर जताया विरोध

स्वामी ने मंगलवार को अपने ट्वीट में आधार को अनिवार्य बनाने को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बताया। स्वामी ने अपने ट्वट में लिखा कि, 'वो इस बारे में विस्तार से प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखेंगे। इतना ही नहीं स्वामी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट इस फैसले को खारिज कर देगा।

गौरतलब है कि पं. बंगाल की सीएम ने केंद्र के इस फैसले के खिलाफ SC में याचिका दायर की थी, लेकिन उनकी याचिका को केंद्र के फैसले के खिलाफ बता कर कोर्ट ने राज्य सरकार और मोबाइल कंपनी को नोटिस जारी कर दिया। साथ ममता को राज्य सरकार की तरफ से याचिका दायर ना करने की सलाह दी। कोर्ट ने कहा कि अगर वो चाहे तो एक व्यक्ति के रूप में याचिका दायर कर सकती हैं। 

                           Image result for subramanian swamy and mamta on aadhar

ममता ने दी केंद्र को चुनौती 

- ममता बनर्जी ने चुनौती दी थी कि 'वो आधार से अपना मोबाइल लिंक नहीं कराएंगी और मोबाइल कंपनी उनका फोन कनेक्शन काट कर दिखाए।' 

- ममता ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था, 'मैं बाकी लोगों से भी इस मामले में आगे आने की अपील करती हूं। मोबाइल नंबर से आधार को लिंक करने का यह कदम व्यक्तिगत गोपनियता पर अटैक करना है। 

- ममता के मुताबिक 'जैसे ही आप आधार से मोबाइल लिंक करेंगे। केंद्र सरकार को आपके बारे में सब पता चल जाएगा। आपकी प्राइवेसी खत्म हो जाएगी।।